Monday , October 23 2017
Home / Crime / फैशन डिजाइनर से दुबई में 25 दिन तक गैंगरेप

फैशन डिजाइनर से दुबई में 25 दिन तक गैंगरेप

मुंबई की एक फैशन डिजाइनर को पैसों का लालच देकर दुबई ले जाया गया और वहां उसे जिस्म फरोशी के धंधे में लगा दिया गया और 25 दिनो तक रेप होता रहा |

मुंबई की एक फैशन डिजाइनर को पैसों का लालच देकर दुबई ले जाया गया और वहां उसे जिस्म फरोशी के धंधे में लगा दिया गया और 25 दिनो तक रेप होता रहा |

मुंबई पुलिस के मुताबिक मुंबई के खार इलाके में बुटीक चलाने वाली एक खातून को अच्छी नौकरी का झांसा देकर 27 साल की फैशन डिजाइनर को दुबई ले जाया गया लेकिन वहां ले जाकर उसे जिस्म फरोशी के धंधे में लगा दिया | खार पुलिस ने अंजलि विनोद कुमार डे उर्फ अग्रवाल के खिलाफ आईपीसी की दफा 406 और 420 के तहत केस दर्ज किया है |

मुतास्सिरा के वकील अविनाश दुबे का कहना है कि वह पुलिस की कार्रवाई से मुतमईन नहीं है मुतास्सिरा गुड़गांव की एक रियल एस्टेट कंपनी में बतौर मैनेजर काम कर रही थी वह फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा होल्डर है | फैशन इंडस्ट्री में कामयाब करियर बनाने के लिए वह मुंबई गई थी | पिछले साल 13 मई को दोस्त के जरिए उसकी एक खातून से मुलाकात हुई,जिसने अपना नाम अंजलि अग्रवाल बताया |

अंजलि खार(मगरिब) में मेमसाहब नाम से एक बुटीक चलाती है पहली ही मुलाकात में अंजिल ने फैशन डिजाइनर को बताया कि दुबई में भी उसका बुटीक है उसे बुटीक चलाने के लिए एसिस्टेंट मैनेजर की जरूरत है | अंजलि ने फैशल डिजाइनर को हर महीने चार लाख रूपए बतौर तंख्वाह देने का वादा किया मुतास्सिरा इतने बड़े ऑफर को ठुकरा नहीं सकी |

पीडिता ने अंजलि को वीज़ा,एयर टिकट और दुबई की होटल में रूकने का इंतेजाम करने के लिए 10 लाख रूपए दिए मुतास्सिरा के मुताबिक रौशन मुस्तकबिल के लिए मैंने अंकल से 10 लाख रूपए कर्ज़ लिए और अंजलि को दे दिए | एक जून को मुतास्सिरा अंजलि के साथ दुबई के लिए रवाना हो गई |

दुबई एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद अंजलि ने मुतास्सिरा का पासपोर्ट जब्त कर लिया

अंजलि ने मुतास्सिरा से कहा कि जिस होटल में रूकेंगे वहां रिसेप्शन पर पासपोर्ट जमा कराना होगा इसके बाद अंजलि मुतास्सिरा को एक अपार्टमेंट में ले गई पीडिता को अपार्टमेंट की 17 वीं मजिल पर वाकेय् एक कमरे में बंद कर दिया | 2 जून को अंजलि और दिगर तीन ख्वातीन ने कमरे में शराब और डिजाइनर ड्रेसें रख दी उसी शाम चार लोग कमरे में घुसे और शराब पीने लगे |

अंजलि ने मुतास्सिरा से कहा कि ये सभी मेरे दोस्त हैं रात को तकरीबन 10 बजे अंजलि ने मुतास्सिराको बताया कि मेरा एक दोस्त तुम्हे बहुत पसंद करता है और रात बिताने के लिए वह 3 हजार दिरहम देने को तैयार है मुतास्सिरा ने इसकी मुखालिफत की | इस पर अंजलि ने उसकी पिटाई कर दी मुतास्सिरा के मुताबिक अंजलि ने उसे बताया कि पिछले 25 साल से वह जिस्म फरोशी के धंधे में मुलव्वस है |

उसके मुंबई और दुबई पुलिस में अच्छे राबिता हैं कई वुजराओं से भी उसकी जान पहचान है, अगर मेरे खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई तो मरवा दूंगी |

3 जून को एक सख्श ने मुतास्सिरा का रेप किया, 27 जून तक 11 और लोगों ने मुख्तलिफ मुकामात पर मुतास्सिरा का रेप किया गया | 27 जून को अंजलि ने मुतास्सिरा को पासपोर्ट लौटा दिया इसके बाद वह मुंबई आ गई | मुतास्सिरा काफी दिनो तक सदमे में रही |

फिर सदमे से बाहर आने के बाद उसने अपने वकील अविनाश दुबे से राबिता किया दुबे उसे खार पुलिस स्टेशन ले गया,जहां उसने अंजलि अग्रवाल के खिलाफ केस दर्ज करवाया |

उधर अंजलि का कहना है कि मुझे इस बात की मालूमात है कि मेरे खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई गई है लेकिन कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है | जांच आफीसर रमेश तेंदुलकर ने मुझे पुलिस स्टेशन बुलाया था मुझ पर लगे सभी इल्ज़ाम झूठे हैं | लड़की मुझसे पैसे वसूलना चाहती है |

TOPPOPULARRECENT