Monday , September 25 2017
Home / International / फोन टैपिंग मामले में ओबामा ने कहा, ट्रंप झुठ बोल रहे हैं

फोन टैपिंग मामले में ओबामा ने कहा, ट्रंप झुठ बोल रहे हैं

अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने डोनल्ड ट्रंप के उन आरोपों का खंडन किया है जिसमें ट्रंप ने उन पर आरोप लगाया है कि राष्ट्रपति चुनावों के दौरान उन्होंने उनका फोन कॉल्स टैप कराया।

ओबामा के प्रवक्ता केविन लूईस ने ट्रंप के इस आरोप को निराधार बताया है। उन्होंने कहा है कि न तो ओबामा और न ही व्हाइट हाउस के किसी अधिकारी ने किसी अमरीकी व्यक्ति की जासूसी के आदेश दिए थे।

गौरतलब है कि शनिवार को ट्रंप ने ट्वीट कर ओबामा पर आरोप लगाया था कि उनके राष्ट्रपति चुने जाने के एक महीने पहले ओबामा प्रशासन ने उनके फोन की टैपिंग करवाई थी।

ट्रंप ने अपने ट्वीट में लिखा, “भयानक! अभी-अभी पता चला है कि ओबामा ने मेरे चुनाव जीतने के ठीक पहले ट्रंप टॉवर में मेरे फोन को टैप करवाया था। कुछ भी नहीं मिला।”

उसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा, ‘एक अदालत ने फोन टैप करने की इजाजत देने से इनकार कर दिया था। हालांकि उन्होंने इसके बारे में विस्तार से नहीं बताया।

बता दें कि मीडिया रिपोर्टों से यह सामने आया है कि अमरीकी जांच एजेंसी एफबीआई ने विदेशी खुफिया निगरानी अदालत से ट्रंप के टीम के कुछ लोगों पर नजर रखने की इजाजत मांगी थी।

ट्रंप से जुड़े उन लोगों पर इस बात का संदेह था कि वे रूसी अधिकारियों के संपर्क थे। इस रिपोर्टों में यह भी सामने आया है कि पहले अदालत ने इसकी इजाजत नहीं दी, लेकिन अक्तूबर महीने में उसने हरी झंडी दिखा दी।

TOPPOPULARRECENT