Thursday , June 22 2017
Home / International / फ्रांस ने अमेरिकी वैज्ञानिको को जलवायु परिवर्तन पर अनुसन्धान करने के लिए अनुदान देने की पेशकश करी

फ्रांस ने अमेरिकी वैज्ञानिको को जलवायु परिवर्तन पर अनुसन्धान करने के लिए अनुदान देने की पेशकश करी

हाल ही में चुने गए फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रॉन ने अमेरिकी जलवायु वैज्ञानिकों को एक आधिकारिक प्रस्ताव दिया: फ्रांसीसी सरकार ने एक कार्यक्रम शुरू किया है, जो वैज्ञानिकों, शिक्षकों, व्यापारियों और यहां तक ​​कि छात्रों को, जो जलवायु परिवर्तन समाधानों पर काम कर रहे हैं उन्हें चार साल का अनुदान देगी। स्पष्ट रूप से अनुदान प्राप्त करने के लिए लोगो को फ्रांस आने के लिए तैयार होना पड़ेगा।

“मेक आवर प्लेनेट ग्रेट अगेन” कार्यक्रम, पिछले हफ्ते मैक्रॉन द्वारा दिए गए भाषण से प्रेरित है, जिसमे उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा पेरिस जलवायु समझौते के प्रति प्रतिबद्धता को वापस लेने के फैसले का जवाब दिया था।

मैक्रॉन ने कहा, “जहां भी हम रहते हैं, हम जो भी हैं, हम सबकी यह साझा ज़िम्मेदारी है, हमारे ग्रह को फिर से महान बनाना।”

“सभी वैज्ञानिकों, इंजीनियरों, उद्यमियों और जिम्मेदार नागरिकों को जो संयुक्त राज्य के राष्ट्रपति के निर्णय से निराश हैं, मैं कहना चाहता हूं कि वे फ्रांस में एक दूसरा घर पा सकते हैं,” मैक्रॉन ने कहा।

इस नई पहल के साथ, फ्रांस जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए एक संयुक्त वैश्विक प्रयास के महत्व पर ज़ोर दे रहा है, जो एक वैश्विक समस्या बन चुकी है। इसके लिए आवश्यक है की दुनिया के सभी विशेषज्ञों के दिमाग साथ लाये जाएँ और परियोजनाओं को वित् पोषण प्रदान किया जाये – विशेषकर उन लोगों को जो अनुसंधान के प्रति समर्पित हैं और जिनका उद्देश्य जलवायु परिवर्तन को रोकना है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT