Saturday , October 21 2017
Home / Uttar Pradesh / फ्रेंड्स ऑफ विकर सोसाइटी की जानिब से गरीब बच्चों को स्पॉट एड्मिशन

फ्रेंड्स ऑफ विकर सोसाइटी की जानिब से गरीब बच्चों को स्पॉट एड्मिशन

फ्रेंड्स ऑफ विकर सोसाइटी, रांची शहर में पहचान के लिए अब मुहताज नहीं रही वक़्त बावक़्त गरीब और इंतेहाई पसमानदा तालिबे इल्म के लिए मदद के लिए हमेशा अपना सरपरस्ती बरकरार रखती है। चाहे वो तालीम खर्च में पैसे किल्लत हो या फिर आला तालीम म

फ्रेंड्स ऑफ विकर सोसाइटी, रांची शहर में पहचान के लिए अब मुहताज नहीं रही वक़्त बावक़्त गरीब और इंतेहाई पसमानदा तालिबे इल्म के लिए मदद के लिए हमेशा अपना सरपरस्ती बरकरार रखती है। चाहे वो तालीम खर्च में पैसे किल्लत हो या फिर आला तालीम में किसी क़िस्म की मदद हो। इसी सिलसिले को जारी रखते हुये सोसाइटी ने डोर टु डोर स्कूल एड्मिशन प्रोग्राम के तहत हिंदपीड़ी, रांची के सलम इलाकों का दौरा किया खुसुसि तौर से नदी ग्राउंड, नसरुद्दीन कॉलोनी वगैरह जहां के बच्चे इंतेहाई तौर पर गरीब और स्कूलों में दाख्ला करवाने के काबिल तक नहीं हैं।

सोसाइटी के सदर तनवीर अहमद ने बताए की घर-घर जा कर हमारे ओहदेदारान और मेंबरान लोगों से राब्ता किया। इस मुहिम के तहत बहुत सारे बच्चों और उनके वालेदाईन से भी राब्ता हुआ। सोसाइटी चाहती है की समाज में 100 फीसद तालीम हो कोई भी बच्चा स्कूल जाने से महरूम नहीं रहे।

जब सोसाइटी ने दौरा किया तो लोगों के एक़्तेसादी और माली हालत बहुत ही खराब पाया। बहुत सारे बच्चे हैं जिन्होने अभी तक स्कूल में अपना दाखिला नहीं करवा पाये हैं। बच्चे स्कूल जाकर तालीम हासिल करना चाहते हैं, पढ़लिख कर कामयाब हो उनकी भी वालेदाईन के ख्वाब है पर उनके वालेदाईन के माली हालत इतनी खराब हैं की दो वक़्त की रोटी के एलावा बच्चे की तालीम मूयस्सर नहीं हो रहे हैं।

कुछ लोग तो इस हालत में मिले जो दो वक़्त की रोटी मुश्किल से है मूयस्सर हो पाती हैं। इन इलाकों में अक्सर रिक्शा चलाने वाले या फिर दिहाड़ी मजदूर हैं। और कुछ लोग तो बेरोजगार हैं।

सोसाइटी के सदर तनवीर अहमद के मुताबिक लोगों ने अपने-अपने पसंद के मुताबिक स्कूल में स्पॉट दाखिला कराया। बच्चो के वालेदाइन पारामाउंट पब्लिक स्कूल, एचएमके स्कूल और अफ़ाक़ अकादमी स्कूल में दाखिला करने की ख़्वाहिश की।

आज जिन बच्चों का स्पॉट दाखिला हुआ उन तमाम बच्चों को सोसाइटी ने गोद ले लिया है। सोसाइटी इन तमाम बच्चों को अपने प्रोग्राम के तहत मदद करेगी।

सोसाइटी के सदर मिस्टर तनवीर अहमद ने कहा की समाज के हर बच्चों का हक़ है की उसे अपने पसंद के मुताबिक तालीम मिले। आज बड़ी तादाद में लोगों ने अपने बच्चों को पढ़ाने की ख़्वाहिश ज़ाहिर की जिसमें मुस्लिम बच्चों के साथ-साथ दर्ज़ फेहरिस्त और दलित तबके के बच्चे भी शामिल थे। डोर टु डोर एड्मिशन प्रोग्राम रांची के मुखतलिफ़ सलम इलाकों में आगे भी जारी रहेगी। सोसाइटी के नाइब सदर और दीगर ओहदेदारान ने भी अपने खयाल रखे। इस प्रोग्राम में सोसाइटी के सदर तनवीर अहमद , नायब सदर मोहम्मद ज़ाहिद, अब्दुससलाम, मोहम्मद खालील, सजीद जमील समाजी वर्कर नदीम खान, असदुल्लाह, मोहसीन, शोयब वगैरह ने अहम किरदार अदा दिया। पारामाउंट पब्लिक स्कूल के डाइरेक्टर मिस्टर अंसारुल्लाह और एचएमके स्कूल के सेक्रेटरी मिस्टर शादीक खुद बच्चों को स्पॉट एड्मिशन लिया और उनकी कामयाबी की दुआ की।

TOPPOPULARRECENT