Monday , October 23 2017
Home / India / बंगारू लक्ष्मण की सज़ा-ए-को मुल्तवी रखने की दरख़ास्त मुस्तर्द

बंगारू लक्ष्मण की सज़ा-ए-को मुल्तवी रखने की दरख़ास्त मुस्तर्द

दिल्ली हाइकोर्ट ने बी जे पी के साबिक़ सदर बंगारू लक्ष्मण को रिश्वत सतानी के एक मुक़द्दमा में दी गई सज़ा-ए-की मुअत्तली से आज इनकार करदिया। मिस्टर लक्ष्मण ने इस मुक़द्दमा में उन्हें जुर्म का मुर्तक़िब क़रार दिए जाने के ख़िलाफ़ दरख़वात दाय

दिल्ली हाइकोर्ट ने बी जे पी के साबिक़ सदर बंगारू लक्ष्मण को रिश्वत सतानी के एक मुक़द्दमा में दी गई सज़ा-ए-की मुअत्तली से आज इनकार करदिया। मिस्टर लक्ष्मण ने इस मुक़द्दमा में उन्हें जुर्म का मुर्तक़िब क़रार दिए जाने के ख़िलाफ़ दरख़वात दायर करते हुए सज़ा-ए-को मुअत्तल रखने की अपील की थी।

जस्टिस मुक्ता गुप्ता ने मिस्टर लक्ष्मण की अपील पर सी बी आई को नोटिस जारी करते हुए 5 जुलाई तक जवाब दाख़िल करने की हिदायत की है। ताहम अदालत ने तिब्बी बुनियादों पर उन की सज़ा-ए-को मुअत्तल रखने केलिए की गई दरख़ास्त को मुस्तर्द करदिया।

बंगारू लक्ष्मण को एक असटिंग ऑप्रेशन में रिश्वत लेते हुए पकड़े जाने के 11 साल बाद तहत की एक अदालत ने 28 अप्रैल को चार साल की सज़ाए क़ैद बामुशक़क़्त देते हुए उन पर एक लाख रुपय का जुर्माना भी आइद की थी। मिस्टर लक्ष्मण के वकील सफ़ाई संदीप सिंह ने जस्टिस गुप्ता से कहा था कि इन के मुवक्किल की उम्र 72 साल होगई है और वो उन्हें कई अमराज़ लाहक़ हैं। इन की दो मर्तबा बाई पास सर्जरी होचुकी है और वो ज़ियाबीतस के मरीज़ भी हैं।

TOPPOPULARRECENT