Friday , October 20 2017
Home / Business / बजट सेशन के बाद इंधन की कीमतों में इज़ाफ़ा : परनब मुकर्जी

बजट सेशन के बाद इंधन की कीमतों में इज़ाफ़ा : परनब मुकर्जी

फायनेंस मिनीस्टर परनब मुकर्जी ने पार्लीयामेंट के बजट सेशन के बाद डीज़ल और पकवान गैस (एल पी जी) की कीमतों में इज़ाफ़ा का इशारा दिया। उन्होंने कहा कि बजट सेशन के बाद इस मसला पर सयासी इत्तेफ़ाक़ राय पैदा किया जाए । उन्होंने अख़बारी नुमाइ

फायनेंस मिनीस्टर परनब मुकर्जी ने पार्लीयामेंट के बजट सेशन के बाद डीज़ल और पकवान गैस (एल पी जी) की कीमतों में इज़ाफ़ा का इशारा दिया। उन्होंने कहा कि बजट सेशन के बाद इस मसला पर सयासी इत्तेफ़ाक़ राय पैदा किया जाए । उन्होंने अख़बारी नुमाइंदों से बात चीत करते हुए कहा कि जैसे ही बजट सेशन ख़तम होगा वो मुख़्तलिफ़ रियासती हुकूमतों, चीफ मिनिस्टर्स, सयासी जमातों के क़ाइदीन से बात चीत करेंगे और कोशिश की जाएगी कि मजमूई तौर पर एक एसा मेकानिज़म तैयार किया जाए जिसके ज़रीया अहम मसाइल से मूसिर तौर पर निमटा जा सके और जिनके लिए तमाम मुताल्लिक़ा फ़रीक़ैन की ताईद ज़रूरी होती है।

परनब मुकर्जी ने कहा कि हुकूमत ने जून 2010 में पेट्रोल को सरकारी कंट्रोल से आज़ाद कर दिया है जबकि डीज़ल और घरेलू पकवान गैस इंतिहाई आला रियायती कीमत पर फ़रोख्त किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पेट्रोल की कीमतों को सरकारी कंट्रोल से आज़ाद करने के बावजूद असेंबली इंतेख़ाबात के बाइस गैर रस्मी पाबंदी आइद कर दी गई थी जिस की वजह से तेल की कंपनियों को फ़ी लीटर 5 रुपये का ख़सारा हो रहा है।

उन्होंने बताया कि इस वक़्त डीज़ल की कीमत पर उस वक़्त फ़ी लीटर 14.73 रुपये, केरोसीन पर 30.10 रुपये और एल पी जी सिलेंडर पर 439.50 रुपये का तेल की कंपनियों को ख़सारा बर्दाश्त करना पड़ रहा है ।

TOPPOPULARRECENT