Friday , September 22 2017
Home / Religion / बनारस के पुजारी को इसलाम कुबुल करने से आरएसएस जैसे हिन्दू संघठन खौफजदा

बनारस के पुजारी को इसलाम कुबुल करने से आरएसएस जैसे हिन्दू संघठन खौफजदा

बनारस : इस्लामिक स्कॉलर जाकिर नाइक द्वारा धर्मपरिवर्तन से खौफजदा है हिन्दू संघटन ,आरएसएस जैसे हिन्दू संघठन सबसे ज्यादा किरकरी का सामना तब किये जब बनारस के आचार्य संजय द्विवेदी ने मुस्लिम बनने का एलान किया था अब उन्होंने अपना नाम अब्दुल मुनीम रख लिया है. खुद को उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी तिवारी का पोता और पूर्व शिक्षा मंत्री कमला देवी का पुत्र वाराणसी के एक प्रतिष्ठित मंदिर का पुजारी बताने वाले आचार्य संजय द्विवेदी को मुसलमान बनाने में जाकिर नाइक ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। संजय द्विवेदी का एक साक्षात्कार दुबई के प्रतिष्ठित अंग्रेजी दैनिक गल्फ न्यूज में भी प्रकाशित हुआ है ।जाकिर नाइक न सिर्फ अपने पीस टीवी पर बल्कि जब कभी विदेशों में तकरीर करने जाते हैं अक्सर संजय द्विवेदी का जिक्र करते हैं।
उधर संजय द्विवेदी ने भी यूट्यूब के माध्यम से दुनिया भर के देशों में इस्लाम का प्रचार करने का बीड़ा उठा लिया है।बताया जाता है कि अहमद पंडित फिलहाल हैदराबाद में अल हिदायत नामक एक संस्था चला रहा है जो इस्लाम का प्रचार प्रसार करती है। संजय द्विवेदी का कहना है कि उसने काशी विद्यापीठ से शिक्षा ग्रहण करी है,वहां से उसने आचार्य की उपाधि ली है एवं इस्लाम ग्रहण करने से पूर्व बिडला मंदिरों के पुजारी और आल इंडिया ब्राह्मण एसोशिएसन के अध्यक्ष भी था । बताया जाता है कि इस्लाम ग्रहण करने के बाद आचार्य संजय द्विवेदी को जाकिर नाइक दुनिया के कई देशों में अपने साथ ले गए थे जहाँ उन्होंने उनका परिचय बनारस के ब्राहमण और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री के तौर पर कराया।आचार्य संजय द्विवेदी का दावा है कि वेदों में जिन देवी देवताओं की बात कही गई है वो ब्रह्मा विष्णु न होकर पैगम्बर मोहम्मद है।

TOPPOPULARRECENT