Saturday , October 21 2017
Home / Islami Duniya / बर्तानिया :इस्लामी तारीख़ को निसाब में शामिल करने का मुतालिबा

बर्तानिया :इस्लामी तारीख़ को निसाब में शामिल करने का मुतालिबा

क़ाहिरा। 15 अप्रैल (एजैंसीज़) बर्तानिया में इस्लाम की सरबुलन्दी के लिए तेज़ी से मुहिम चलाई जा रही है। इस बारे में बर्तानिया के स्कूली निसाब में तारीख़े इस्लाम को शामिल करने का पुरज़ोर मुतालिबा किया जा रहा है ताकि साईंस और शोबा फ़ल

क़ाहिरा। 15 अप्रैल (एजैंसीज़) बर्तानिया में इस्लाम की सरबुलन्दी के लिए तेज़ी से मुहिम चलाई जा रही है। इस बारे में बर्तानिया के स्कूली निसाब में तारीख़े इस्लाम को शामिल करने का पुरज़ोर मुतालिबा किया जा रहा है ताकि साईंस और शोबा फ़लसफ़ा में मुसलमानों की ख़िदमात से मुताल्लिक़ ग़ैर मुस्लिमों को तालीम दी जा सके।

होफ़नगटन पोस्ट बर्तानिया से बात करते हुए इस मुहिम के सरबराह मुहम्मद अमीन ने कहा कि स्कूली निसाब में तारीख़ इस्लाम को शामिल करने से ना सिर्फ़ मुसलमानों को तालीम देना बल्कि ग़ैर मुस्लिमीन को भी इस्लाम की तालीमात से वाक़िफ़ कराना है।

नौजवान तलबा को स्कूल में इस्लाम से मुताल्लिक़ कुछ नहीं पढ़ाया जाता। ये मुस्लिम तलबा इस्लामी तालीमात के बगै़र ही अपना निसाब पूरा करते हैं। उन्हें सिर्फ़ दहश्तगर्दी से मुताल्लिक़ मुसलमानों की शबिह बिगाड़ कर वाक़िफ़ करवाया जाता है जबकि इस्लाम के बारे में उन्हें सोचने का मौक़ा नहीं दिया जाता।

मुहिम चलाने वाले ग्रुप का कहना है कि मुस्लिम तलबा को इस्लामी तालीमात से क़रीब करने की कोशिश की जा रही है। बर्तानिया में मुसलमानों की आबादी तक़रीबन 2.7 मिलयन है।
बर्तानवी स्कूलों में 4 लाख मुस्लिम तलबा ज़ेर-ए-तालीम हैं। इन में से 7 हज़ार ऐसे स्कूलस हैं जो अक़ाइद की तालीम देते हैं।

TOPPOPULARRECENT