Friday , October 20 2017
Home / World / बर्तानिया में मुसलमान इंतिहापसंदी के ख़िलाफ़ सरगर्म अमल

बर्तानिया में मुसलमान इंतिहापसंदी के ख़िलाफ़ सरगर्म अमल

बर्तानवी दारुल हुकूमत की एक शाहराह पर दो नव मुस्लिमों के हाथों एक बर्तानवी फ़ौजी के सरेआम क़त्ल के वाक़िये में मुल्ज़िमान के ख़िलाफ़ मुक़द्दमे की समाअत शुरू हो गई है।

बर्तानवी दारुल हुकूमत की एक शाहराह पर दो नव मुस्लिमों के हाथों एक बर्तानवी फ़ौजी के सरेआम क़त्ल के वाक़िये में मुल्ज़िमान के ख़िलाफ़ मुक़द्दमे की समाअत शुरू हो गई है।
इस क़त्ल के बाद से बर्तानवी मुसलमानों में इंतिहापसंदी के ख़िलाफ़ जज़बात में इज़ाफ़ा हुआ है। लीरग्बी नामी फ़ौजी को इस साल 22 मई को दिन दहाड़े लंदन के इलाक़े विवेल्च में बर्तानवी फ़ौज की एक छावनी की इमारत के सामने क़त्ल कर दिया गया था।

इस क़त्ल के बाद बर्तानिया में अवामी सतह पर किया जाने वाला एहतेजाज इस लिए बहुत बुलंद आवाज़ हो गया था कि दोनों मुल्ज़िमान ने मैबयना क़ातिलों के तौर पर वारदात की जगह पर ही राहगीरों से ये कहना शुरू कर दिया था कि उन्हों ने इस बर्तानवी फ़ौजी को इंतेक़ामन क़त्ल किया है।
इस लिए कि बर्तानवी फ़ौजीयों ने (हमला आवरों के) मुसलमान भाईयों को क़त्ल किया था।

इस क़त्ल के दोनों मैबयना मुल्ज़िमान के नाम माईकल अदीबोलाजो और माईकल अदीबोवाले हैं। इस इलाक़े में पर हुजूम ट्रैफ़िक के शोर के बावजूद ईस्ट लंदन की मस्जिद की छत से बुलंद होने वाली अज़ान की आवाज़ अभी भी सुनी जा सकती है।

TOPPOPULARRECENT