Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / बर्क़ी मुलाज़िमीन की हड़ताल ख़त्म, टीचर्स भी डयूटी पर रुजू होने तैयार

बर्क़ी मुलाज़िमीन की हड़ताल ख़त्म, टीचर्स भी डयूटी पर रुजू होने तैयार

आंध्र प्रदेश की तक़सीम के ख़िलाफ़ एहतेजाज करने वाले बर्क़ी मुलाज़िमीन ने अपनी हड़ताल वापिस ले ली है और वो कल से डयूटी पर रुजू होंगे।

आंध्र प्रदेश की तक़सीम के ख़िलाफ़ एहतेजाज करने वाले बर्क़ी मुलाज़िमीन ने अपनी हड़ताल वापिस ले ली है और वो कल से डयूटी पर रुजू होंगे।

हुकूमते आंध्र प्रदेश ने सीमांध्र अज़ला में हड़ताली टीचर्स को भी मनाने में कामयाबी हासिल की है। टीचर्स ने कल से डयूटी पर रुजू होने से इत्तिफ़ाक़ किया है।

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी के साथ सीमांध्र इलेक्ट्रीसिटी मुलाज़िमीन की हुई बातचीत कामयाब रही और सीमांध्र बर्क़ी मुलाज़िमीन ने आरिज़ी तौर पर हड़ताल ख़त्म करके 11 अक्टुबर की सुबह से डयूटी पर रुजू होने का एलान किया और कहा कि चीफ़ मिनिस्टर के दिए हुए यकीन से इन्हिराफ़ किए जाने पर किसी नोटिस के बगै़र ही दुबारा हड़ताल शुरू की जाएगी और इस तरह आज बर्क़ी मुलाज़िमीन सीमांध्र क़ाइदीन के साथ हुई बातचीत की कामयाबी पर रियासत को दरपेश बर्क़ी का संगीन ख़तरा टल गया।

चीफ़ मिनिस्टर के साथ हुई बातचीत के बाद सेक्रेटेरिएट में अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए साई बाबा , कन्वीनर सीमांध्र बर्क़ी मुलाज़िमीन यूनीयन जवाइंट एक्शण कमेटी ने ये बात कही।

उन्होंने कहा कि किरण कुमार रेड्डी ने अपनी चीफ़ मिनिस्टर ओहदे पर बरक़रारी तक तेलंगाना के अमल को रुकवाने के दिए गए यकीन पर ही वो अपनी जारी हड़ताल को आरिज़ी तौर पर ख़त्म कररहे हैं और कहा कि चीफ़ मिनिस्टर ने यहां तक कहा कि रियासत की तक़सीम की क़रारदाद को रियास्ती असेंबली में रोका जाएगा

लिहाज़ा उन तीक़नात की रोशनी में खसकर अवाम को दरपेश मसाइल को मद्द-ए-नज़र रखते हुए इस बात का फ़ैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि चीफ़ मिनिस्टर के साथ तीन मर्तबा बातचीत करने के बाद ही उन्होंने मज़कूरा तीक़नात दिए।

इलेक्ट्रीसिटी इम्पलाइज़ जवाइंट एक्शण कमेटी के क़ाइद साई बाबू ने कहा कि चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी की अपील के बाद जिन्होंने आज दोपहर में सेक्रेटेरिएट में हड़ताली मुलाज़िमीन से बातचीत की।

इलेक्ट्रीसिटी इम्पलाइज़ जय ए सी ने हड़ताल ख़त्म करने और कल से डयूटी पर रुजू होने से इत्तिफ़ाक़ किया है। साई बाबू ने कहा हम ने मुकम्मिल तौर पर हमारी हड़ताल ख़त्म नहीं की है।

ये सिर्फ़ तूफ़ान के ख़तरे के पेशे नज़र आरिज़ी है हड़ताल को आरिज़ी तौर पर ख़त्म करने का फ़ैसला इस लिए किया गया है ताकि अवाम को मुश्किलात से बचाया जा सके और कहा कि बर्क़ी सरबराही को फ़ौरी तौर पर बहाल किया जाएगा ताहम उन्होंने कहा कि वो उनकी हड़ताल को दूसरी शक्ल में जारी रखेंगे।

हुकूमत आंध्र प्रदेश ने सीमांध्र अज़ला में हड़ताल करने वाले टीचर्स को भी राज़ी कराने में कामयाबी हासिल करली है। टीचर्स आज निस्फ़ शब से अपनी हड़ताल ख़त्म कररहे हैं।

कल से वो डयूटी पर रुजू होंगे, अलबत्ता आंध्र प्रदेश स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन के मुलाज़िमीन से बातचीत ग़ैर मुख़्ततम रही। आर टी सी मुलाज़मीन अपने मौक़िफ़ पर अटल हैं।

सरकारी टीचर्स ने हड़ताल ख़त्म करने से इत्तिफ़ाक़ किया। वज़ीर फाइनैंस आँम राम नारायण रेड्डी ने बातचीत के खत्म के बाद ये बात बताई।

टीचर्स जवाइंट एक्शण कमेटी ने हुकूमत से तीक़न हासिल किया कि रियासत की तक़सीम की सूरत में उनके मुफ़ादात का तहफ़्फ़ुज़ किया जाएगा।

वज़ीर ट्रांसपोर्ट बोतसा सत्य नाराय‌ना की ए पी एस आर टी सी यूनीयन क़ाइदीन से आज बातचीत कामयाब नहीं होसकी। आर टी सी बस सरविस पिछ्ले 50 दिन से मफ़लूज है।

आर टी सी नेशनल मज़दूर यूनीयन ने वाज़िह तौर पर तीक़न देने का मुतालिबा किया कि आंध्र प्रदेश की तक़सीम की सूरत में अमलन दीवालीया का शिकार कारपोरेशन को रियास्ती हुकूमत अपने ज़ेर-ए-कंट्रोल लेगी। आर टी सी यूनीयन क़ाइदीन के साथ कल दुबारा बातचीत मुक़र्रर है।

TOPPOPULARRECENT