Friday , August 18 2017
Home / Delhi News / बहैसियत डीडीसीए सरबराह मैंने कोई रक़म वसूल नहीं किया

बहैसियत डीडीसीए सरबराह मैंने कोई रक़म वसूल नहीं किया

नई दिल्ली: वज़ीरे फाईनेंस अरूण जेटली ने आज दिल्ली की एक अदालत से कहा कि दिल्ली ऐंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसीएशन‌ (डीडीसीए के सदर की हैसियत से उन्होंने अपनी मियाद में किसी से कोई रक़म वसूल नहीं की और इल्ज़ाम आइद किया कि दिल्ली के चीफ़ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल महज़ ”अपने साथ काम करने वाले एक शख़्स’ के ख़िलाफ़ सीबीआई की तहक़ीक़ात से तवज्जे हटाने की कोशिश कर रहे हैं।

जेटली ने इल्ज़ाम आइद किया कि केजरीवाल और आम आदमी पार्टी (आप के दीगर पाँच क़ाइदीन कुमार विश्वास, अशुतोष, संजय सिंह, राघव चड्ढा और दीपक बाजपाई ने ग़लत तौर पर कहा है कि उन्हों (जेटली ने इस वक़्त के डीडीसी ए सदर की हैसियत से रक़म मुंतक़िल की थी और इस के इस्तिफ़ादा कनुंदा थे।

वज़ीरे  फाइनेंस इंतेहाई सख़्त सिक्योरिटी के दरमियान अपना बयान के लिए आज यहां चीफ़ मेट्रो पोलिटन मजिस्ट्रेट संजय खा निगवाल के इजलास पर पहुंचे थे जहां वो पहले ही अरविंद केजरीवाल और चंद दूसरों के ख़िलाफ़ हतक-ए-इज़्ज़त का मुक़द्दमा दायर कर चुके हैं, जिसमें इल्ज़ाम आइद किया गया है कि केजरीवाल और उनके चंद साथियों ने उनके और उनके अरकाने ख़ानदान के ख़िलाफ़ झूटे और तौहीन आमेज़ बयानात दिए हैं।

जेटली ने कहा कि केजरीवाल का ये बयान ग़लत है उन्हों (जेटली ने बहैसियत डीडीसी ए सरबराह अपनी मियाद में फ़िरोज़ शाह कोटला स्टेडियम की तामीर के मौक़े पर रक़म वसूल किया था। जेटली ने कहा कि स्टेडीयम की तामीर के कामों की निगरानी के लिए बोर्ड आफ़ डायरेक्टरस ने एक कमेटी तशकील दी थी,जिसके वो रुकन नहीं थे।

जेटली के अलावा सीनियर जर्नलिस्ट रजत शर्मा ने भी अपना बयान कलमबंद करवाया जो इस मुक़द्दमे में शिकायत गुज़ार के गवाह की हैसियत से हाज़िर हुए थे। जेटली ने70 मिनट तक कलमबंद करवाए गए अपने बयान में6 अरकान के ट्वीटर और फेसबुक पोस्ट्स का भी हवाला दिया और कहा कि हतक-ए-इज़्ज़त का मुक़द्दमा दायर किए जाने के बाद भी उन्होंने ये बयान जारी किया जिससे उनकी साख को नुक़्सान पहुंचा है। जेटली ने ये इल्ज़ाम भी आइद किया कि आप के इन क़ाइदीन ने उनके और अरकाने ख़ानदान के ख़िलाफ़ झूटे इल्ज़ामात आइद किए हैं जिससे अवाम में इन (जेटली का वक़ार मजरूह हुआ है|

TOPPOPULARRECENT