Tuesday , October 17 2017
Home / Khaas Khabar / बांग्लादेशी हिंदुस्तान छोड़े या हिंदू बन जाए: बजरंग दल का इंतेबाह

बांग्लादेशी हिंदुस्तान छोड़े या हिंदू बन जाए: बजरंग दल का इंतेबाह

जबरन मज़हब की तब्दीली और घर वापसी जैसे प्रोग्रामो के बाद अब हिंदूवादी तंज़ीमों ने हिंदुस्तान में से बांग्लादेशियों को निशाने पर लिया है। बजरंग दल ने इंतेबाह देते हुए कहाकि बांग्लादेशी या तो मुल्क छोड़ दे या फिर हिंदू मज़हब अपना ले।

जबरन मज़हब की तब्दीली और घर वापसी जैसे प्रोग्रामो के बाद अब हिंदूवादी तंज़ीमों ने हिंदुस्तान में से बांग्लादेशियों को निशाने पर लिया है। बजरंग दल ने इंतेबाह देते हुए कहाकि बांग्लादेशी या तो मुल्क छोड़ दे या फिर हिंदू मज़हब अपना ले।हालांकि विश्व हिंदू परिषद इससे सहमत नहीं है। बजरंग दल का कहना है कि, हमारी पहली मांग है कि वे हिंदुस्तान छोड़ दे क्योंकि वे हमारे वसाएल को लूट रहे हैं। लेकिन अगर वे यहां रहना चाहते हैं तो हिंदू बन जाए और हमारे तरीकों से जिंदगी गुजारें।

वहीं घर वापसी प्रोग्राम पर बजरंग दल के कंवेनर बलराज डूंगर ने बताया कि ऐसा यूपीए सरकार के इक्तेदार के दौरान भी हो रहा था। यह मुसलसल चलने वाला अमल है। बांग्लादेशी यहां पर 43 साल से रह रहे हैं और अब उनके जाने का वक्त हो गया है। उनके मज़हब बदलने से गैरकानूनी खत्म नहीं होगी।

वहीं इस बारे में विहिप का कहना है कि, मुल्क में रह रहे बांग्लादेशियों को यहां से चले जाना चाहिए। उन्हें हिंदू बनाने का सवाल ही नहीं उठता। अगर ऐसा होगा तो मुल्क में जुर्म बढ़ जाएंगे क्योंकि वे मुल्क के मुखालिफ सरगर्मियों में लगे हुए हैं। गौरतलब है 1971 में बांग्लादेश कीई तश्कील के दौरान लाखों बांग्लादेशी हिंदुस्तान में मुहाजिरीन की शक्ल में आए थे लेकिन इनकी सही तादाद की मालूमात दस्तयाब नहीं है। हुकूमत के पास भी इसके सही आंकड़ें नहीं है और कइयों के पास तो राशन कार्ड और वोटर आईडी तक बन गए हैं।

TOPPOPULARRECENT