Thursday , September 21 2017
Home / Bihar News / बाढ़ से बिहार परेशान, गंगा समेत सभी नदियां खतरे के निशान से ऊपर

बाढ़ से बिहार परेशान, गंगा समेत सभी नदियां खतरे के निशान से ऊपर

पटना। बिहार में गंगा नदी अभी भी अधिकांश स्थानों पर पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है जिससे राज्य में बाढ़ की स्थिति विकट बनी है। हालांकि, सोमवार की तुलना में गंगा के जलस्तर में मामूली कमी दर्ज की गई है परंतु सोन नदी के जलस्तर में वृद्घि के कारण लोगों में बेचैनी है। बिहार में गंगा नदी के बढ़े हुए जल स्तर और तेज जल प्रवाह के कारण इस नदी के किनारे अवस्थित जिलों बक्सर, भोजपुर, पटना, वैशाली, सारण, बेगूसराय, समस्तीपुर, लखीसराय, खगड़िया, मुंगेर, भागलपुर और कटिहार जिलों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। पटना, वैशाली, भोजपुर और सारण जिला के दियारा क्षेत्र (नदी किनारे वाले इलाके) बाढ़ से अधिक प्रभावित हैं। आपदा प्रबंधन विभाग का दावा है कि बाढ़ से प्रभावित सभी जिलों में राहत और बचाव कार्य जारी है।
IMG-20160822-WA0011
पटना स्थित बाढ़ नियंत्रण कक्ष के मुताबिक, राज्य में गंगा, पुनपुन, गंडक और सोन नदी कई स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त सहायक अभियंता विजय कुमार मंडल ने मंगलवार को आईएएनएस को बताया कि इंद्रपुरी बैराज में सोन नदी के जलस्तर में वृद्घि दर्ज की जा रही है। सुबह आठ बजे इंद्रपुरी बैराज के पास सोन नदी का जलस्तर 4,35,402 क्यूसेक था वहीं सुबह नौ बजे यहां का जलस्तर बढ़कर 4,40,441 क्यूसेक दर्ज किया गया।
IMG-20160822-WA0013
उन्होंने बताया कि गंगा नदी बक्सर, दीघा, गांधीघाट, हाथीदह, भागलपुर और कहलगांव में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है जबकि बूढ़ी गंडक, खगड़िया व घाघरा गंगपुर सिसवन (सीवान) में खतरे के निशान को ऊपर बह रही है। आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बाढ़ प्रभावित लोगों को दियारा क्षेत्र से सुरक्षित निकालकर राहत शिविरों में लाया जा रहा है, जहां उनके लिए पका हुआ भोजन, पीने का पानी, महिला और पुरूषों के लिए अलग-अलग शौचालय, स्वास्थ्य जांच, जरूरी दवाएं, साफ-सफाई और प्रकाश की पर्याप्त व्यवस्था की गई है।
IMG-20160726-WA0003
उन्होंने बताया कि अब तक करीब 1,39,330 लोगों को बाढ़ग्रस्त स्थान से बाहर निकालकर सुरक्षित स्थान पर लाया गया है, जिनमें से 1,05,000 लोगों को 162 राहत शिविरों में रखा गया है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में 1,537 नावों का परिचालन किया जा रहा है और एनडीआरएफ, एसडीआरएफ की टीमें राहत और बचाव कार्य में लगी हुई हैं। मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, कल सुबह तक बिहार की सभी नदियों के जलग्रहण क्षेत्रों में हल्की से साधारण वर्षा होने की संभावना है।

TOPPOPULARRECENT