Friday , October 20 2017
Home / Khaas Khabar / बाप के हाथों तीन मासूम बच्चों का बड़ी बेरहमी से कत्ल

बाप के हाथों तीन मासूम बच्चों का बड़ी बेरहमी से कत्ल

रायपुर, 12 नवंबर: तीन दिन पहले कटोरा तालाब इलाके में हुए दोहरे कत्ल केस की गुत्थी अभी सुलझ भी नहीं पाई थी कि आज आमानाका इलाके में एक दिल दहलाने वाला वाकिया हो गया, जिससे दारूल हुकूमत में सनसनी फैल गई.

रायपुर, 12 नवंबर: तीन दिन पहले कटोरा तालाब इलाके में हुए दोहरे कत्ल केस की गुत्थी अभी सुलझ भी नहीं पाई थी कि आज आमानाका इलाके में एक दिल दहलाने वाला वाकिया हो गया, जिससे दारूल हुकूमत में सनसनी फैल गई. एक नशेड़ी बाप ने शराब के नशे में धुत्त अपने ही तीन बच्चों को गंडासे से काटकर कत्ल कर दिया | कत्ल की इत्तेला मिलते ही आसपास के लोगों ने मुल्ज़िम को पकड़कर जमकर धुना, उसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया |

वाल्मिकी नगर का साकिन नीलमणि मिश्रा अकसर शराब के नशे में धुत्त होकर बीवी और बच्चों के साथ मारपीट किया करता था और आज दोपहर वह शराब के नशे में जब घर पहुंचा तो उसकी बीवी घर पर नहीं थी. इस पर उसने बच्चों को गाली देना शुरू कर दिया और उसने बाद धारदार गंडासे से बच्चों पर हमला किया. इस हमले में तीन बच्चों की मौत मौके पर हो गई | वहीं बड़े बच्चे ने भागकर अपनी जान बचाई | मुल्ज़िम के हमले में उसका बड़ा बेटा गौतम मिश्रा (6), शरद मिश्रा (4), विनय मिश्रा (2) की मौत हो गई |

पुलिस ने बताया कि जब दरिंदा बाप अपने बच्चों पर गंडासे चला रहा था, तो चीखने-चिल्लाने की आवाज बाहर तक आ रही थी | लेकिन पड़ोसियों ने यह सोचा कि यह तो रोज का झगड़ा है इस वजह से उन्होंने ध्यान नहीं दिया | मुल्ज़िम के बड़े बेटे ने बाहर भागकर जब सारी बाते बताई तो लोगों ने इसकी इत्तेला पुलिस कंट्रोल रूम को दी |

खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची, तब तक लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था उन्होंने गुस्से में मुल्ज़िम की जमकर धुनाई की और उसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया इस कत्ल से लोग इतना ज़्यादा गुस्से थे कि पुलिस को उन्हें काबू करने में कई घंटे लग गए उधर जब मुल्ज़िम की बीवी को इस वाकिया की खबर मिली तो वह दौड़ते-भागते घर पहुंची और उसका रो-रोकर बुरा हाल था |

लोग औलाद पाने की खातिर मंदिर-मस्जिद जाकर हजारों मिन्नतें करते हैं और उनके खातिर पूजापाठ व व्रत करते हैं, तब जाकर उन्हें औलाद की खुसी हासिल होती है, लेकिन वाल्मिकी नगर में आज दोपहर शराब के नशे में हैवान बन चुके बाप ने अपने तीन मासूम बच्चों की बड़ी बेरहमी से कत्ल कर दिया | स घटना से आस-पास के इलाके के रहने वालों का दिल दहल गया है | पुलिस मामले की जांच कर रही है |

मिली जानकारी के मुताबिक मुल्ज़िम नीलमणि मिश्रा बाप का नाम जगबंधु (40 वर्ष) ओड़िशा का रहने वाला है | उसकी शादी 12 साल पहले संगीता पांडे से हुई थी, उसके चार लड़के थे | मुल्ज़िम आरके रोलिंग मिल में काम करता है, वहीं सुनीता मिश्रा दूसरों के यहां झाडू-पोंछा का काम करती है | आस-पास के लोगों के मुताबिक मुल्ज़िम नीलमणि मिश्रा शराब पीने का आदी है | अक्सर शराब पीकर वह अपने बीवी-बच्चों के साथ गाली-गलौज करता था | ऐनीशाहिदीन का कहना है कि आज भी वह शराब के नशे में धुत्त था | वहीं सुबह सुनीता काम पर चली गई थी बताया जा रहा है कि मुल्ज़िम नीलमणि मिश्रा शराब पीकर दोपहर 12 बजे वाल्मिकी नगर वाकेय् अटल घर पहुंचा|

उसने चारों बच्चों को खाना खिलाने पास के एक होटल ले गया वहां बच्चों को खाना खिलाया और शराब दुकान जाकर उसने शराब पी इसके बाद बच्चों को घर लेकर आया और उसने अपनी हैवानियत दिखानी शुरू कर दी | शराब के नशे में हैवान बन चुके नीलमणि ने एक के बाद एक बच्चों को मारना शुरू कर दिया | मुल्ज़िम ने बड़ी बेरहमी से बच्चों का गंड़ासा से गला रेत डाला | वहीं बाप की हैवानियत देख उसका बड़ा बेटा ऋषभ दरवाजे की सिटकनी खोल कमरे से बाहर निकल भागा और नानी कमला पांडे के पास वाकिया की जानकारी दी. देखते-देखते वहां पर बड़ी तादाद में लोग जमा हो गए. | इस दिल दहला देने वाली वाकिया से मोहल्ले वाले अंजान हो गए हैं |

पुलिस के मुताबिक मक्तूल शरद मिश्रा और विनय मिश्रा की लाश बिस्तर पर पड़ी हुई थी, वहीं गौतम मिश्रा की लाश गेट के पास पड़ी हुई थी |

मोहल्ले वालों का कहना है कि दो-तीन दिन पहले सुनीता मिश्रा अपने दो बच्चों के साथ आमानाका थाना गई थी | उसने अपने शौहर नीलमणि मिश्रा के खिलाफ शिकायत की थी उसका कहना था कि उसका शौहर अक्सर शराब पीकर उसके साथ गाली-गलौज कर मारपीट करता है. लेकिन पुलिस ने उसकी कोई भी बात नहीं सुनी तथा उसे थाने से बाहर निकलवा दिया |

TOPPOPULARRECENT