Thursday , October 19 2017
Home / District News / बाबरी मस्जिद की बरसी के ज़िमन में कल जमाती इजलास

बाबरी मस्जिद की बरसी के ज़िमन में कल जमाती इजलास

महबूबनगर /30 नवंबर ( एजैंसीज़ ) मुहम्मद मुहसिन ख़ान कन्वीनर कल जमाती मुस्लिम क़ाइदीन राबिता कमेटी महबूबनगर के जारी करदा प्रैस नोट के बमूजब 6 डसमबर 2011 बाबरी मस्जिद की 19 वीं बरसी के ज़िमन में एहितजाजी लायेहा-ए-अमल तए करने की ग़रज़ से एक अहम और

महबूबनगर /30 नवंबर ( एजैंसीज़ ) मुहम्मद मुहसिन ख़ान कन्वीनर कल जमाती मुस्लिम क़ाइदीन राबिता कमेटी महबूबनगर के जारी करदा प्रैस नोट के बमूजब 6 डसमबर 2011 बाबरी मस्जिद की 19 वीं बरसी के ज़िमन में एहितजाजी लायेहा-ए-अमल तए करने की ग़रज़ से एक अहम और ख़ुसूसी मुशावरती इजलास 30 नवंबर बरोज़ चहारशंबा बमुक़ाम आर ऐंड बी गेस्ट हाइज़ महबूबनगर सुबह 11 बजे मुनाक़िद होगा । इस इजलास में कल जमाती मुस्लिम क़ाइदीन शिरकत करेंगे । मुहम्मद मुहसिन ख़ान ने बताया कि तक़रीबन सभी क़ाइदीन को बज़रीया फ़ोन मतला करदिया गया और इत्तिफ़ाक़न किसी को इत्तिला ना हुई होतो इस ख़बर को इत्तिला समझ कर इजलास में शिरकत करें । उन्हों ने मज़ीद कहा कि 19 बरस के बाद भी बाबरी मस्जिद का मसला जूं का तूं है । बल्कि एवधया हाईकोर्ट के फ़ैसला के बाद और पेचीदा होगया है । उन्हों ने उम्मीद का इज़हार किया कि सुप्रीम कोर्ट में जारी मुक़द्दमा में बाबरी मस्जिद ऐक्शण कमेटी और दीगर मुस्लिम तंज़ीमों की फ़तह होगी और बाबरी मस्जिद की जगह दुबारा मस्जिद तामीर होकर रहेगी । उन्हों ने माबाद बाबरी मस्जिद शहादत हुए फ़िर्कावाराना फ़सादाद और बाबरी मस्जिद की शहादत के ज़िम्मेदार बी जे पी-ओ-दीगर हिन्दू कट्टर जमातों के क़ाइदीन को अब तक सज़ा ना होने पर शदीद अफ़सोस है । हुकूमत को चाहीए कि इन मुक़द्दमात की तेज़ समाअत करवाते हुए फ़सादाद के ख़ातियों को सज़ा-ए-करवाईं। मिर्ज़ा क़ुद्दूस बैग को कन्वीनर ने भी इजलास में शिरकत की अपील की है.

TOPPOPULARRECENT