Sunday , September 24 2017
Home / Delhi News / बाबा रामदेव के बिगड़े बोल, नोटबंदी का विरोध देशद्रोह है

बाबा रामदेव के बिगड़े बोल, नोटबंदी का विरोध देशद्रोह है

नई दिल्ली: नोटबंदी से जहाँ पूरे देश की जनता परेशान है पूरे देश में अफरा तफरी का माहौल है गरीब भूक से मर रहे हैं मज़दूर व किसान का काम सिर्फ नोट बदलना और निकालना रह गया है ऐसे में प्रेस कांफ्रेस कर पतंजली के निदेशक बाबा रामदेव ने कहा है कि नोटबंदी का विरोध करना देशद्रोह है, जो लोग इसका विरोध कर रहे है वह राष्ट्रद्रोह कर रहे हैं.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार मोदी सरकार के सहयोग में धर्मगुरुओं ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेस की है, इस प्रेस कांफ्रेस में मोदी सरकार की तारीफ करते हुए रामदेव बोले कि नोटबंदी से आतंकवाद पर सबसे बड़ा हमला हुआ है, पाकिस्तान से जो नकली करेंसी आती थी मोदी सरकार के इस फैसले से आतंकवाद और नक्सलवाद की फंडिग रुकेगी.
बाबा राम्देव ने आगे कहा कि कोऑपरेटिव बैंकों में कई गड़बड़ियां हुई हैं, अब उन पर कार्यवाई होगी, दो बार चेतावनी देने के बाद भी कुछ लोगों के विचार नहीं बदले थे, इसलिए ऐसा कड़ा फैसला लिया गया. रामदेव ने कहा कि पूरी सन्यास परंपरा इस फैसले के समर्थन में है, इस फैसले से बैंकों की ब्याज दरों में कटौती होगी, उम्मीद है कि ब्याज दरें 7% तक हो जाए, देश की जीडीपी को भी फायदा होगा और देश की करेंसी की वैल्यू भी बढ़ेगी.
महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी ने कहा कि जनता थोड़े समय धैर्य रखें, यह किसी पार्टी या व्यक्ति का निर्णय नहीं है बल्कि भारत की आत्मा का निर्णय है. उन्होंने कहा कि मोदी की सत्ता संभालने के बाद देश में कई बदलाव आए है. कॉमन सिविल कोड का जिक्र किए बगैर स्वामी अवधेशानंद बोले कि जल्द ही देश में सभी समान दिखेंगे.
उल्लेखनीय है कि नोट बंदी के बाद लगभग 51 लोगों की मौत हो चुकी है पुरे देश में अफरा तफरी का माहौल है लोग बैंको की खाक छानने को मजबूर हैं लंबी लाइनों में लगने के बावजूद अपने पैसे निकाल नहीं पा रहे हैं.

TOPPOPULARRECENT