Wednesday , October 18 2017
Home / District News / बिगड़े हुए बच्चों की इस्लाह की ज़रूरत

बिगड़े हुए बच्चों की इस्लाह की ज़रूरत

करीमनगर, १० जनवरी (सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) अतफ़ाल की बहबूदी-ओ-तहफ़्फ़ुज़ के क़ानून से चिल्डर्न वेल्फेयर ओहदेदारान वाक़िफ़ रहें ज़िला लीगल सरविस अथॉरीटी के सैक्रेटरी वे बाला भास्कर राव ने ज़िला कोर्ट लीगल सेवा सदन में ज़िला लीग

करीमनगर, १० जनवरी (सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) अतफ़ाल की बहबूदी-ओ-तहफ़्फ़ुज़ के क़ानून से चिल्डर्न वेल्फेयर ओहदेदारान वाक़िफ़ रहें ज़िला लीगल सरविस अथॉरीटी के सैक्रेटरी वे बाला भास्कर राव ने ज़िला कोर्ट लीगल सेवा सदन में ज़िला लीगल सर्विस अथॉरीटी के ज़ेर-ए-एहतिमाम चिल्डर्न वेल्फेयर ओहदेदार की हैसियत से नामज़द किए गए हैडकांस्टेबल, पुलिस कांस्टेबल के बेदारी-ओ-तर्बीयत के प्रोग्राम में ये बात कही।

2006 साल में तरमीम किए गए क़ानून इतफ़ाल बहबूद के मुताबिक़ बच्चों के जराइम के मुक़द्दमात की यकसूई के लिए जो नील जस्टिस बोर्ड बच्चों की बहबूदी कमेटी के फ़राइज़ क़ानून के मुताबिक़ एख़्तियारात पर बेदारी उजागर करने तक़र्रुर किए गए चिल्डर्न वीलफ़ीर ओहदेदारान के लिए ये तर्बीयती प्रोग्राम का इनइक़ाद किया गया। उन्हों ने बताया कि ज़िला में 69 अफ़राद पुलिस हैडकांस्टेबल, कांस्टेबलस को चिल्डर्न वेल्फेयर ओहदेदारों की हैसियत से तक़र्रुर किए गए आफ़िसरान बच्चों की बहबूदी के लिए क़ानून को बेहतर अंदाज़ से अमल करने के लिए बेदारी उजागर की गई ये ओहदेदारान अपने पुलिस स्टेशन के हदूद में 2006 साल से ज़ेर इलतिवा बच्चों के मुक़द्दमात की

निशानदेही करके यकसूई के लिए कोशिश करने ज़िला बहबूदी इतफ़ाल कमेटी चेयर पर्सन ने कहा कि कोई भी पैदाइशी मुजरिम नहीं होता हालात की वजह से मुजरिम बनता है। बच्चों की बहबूदी के लिए पुलिस, महिकमा बहबूदी ख़वातीन वातफ़ाल-ओ-दीगर महिकमा सब मिल कर तआवुन से कोशिश करने पर ही मुजरिम बच्चों की इस्लाह करके सही रास्ते पर गामज़न करने की गुंजाइश होगी। मुजरिम बच्चों को दूसरे मुजरिमों की तरह बरताओ ना करें, दोस्ताना माहौल में रह कर उन को समझने की कोशिश करें |

TOPPOPULARRECENT