Friday , August 18 2017
Home / Bihar News / बिहारियों के जिश्म से कपड़ा छीनना चाह रही है नीतीश-लालू की हुकूमत : शाहनवाज

बिहारियों के जिश्म से कपड़ा छीनना चाह रही है नीतीश-लालू की हुकूमत : शाहनवाज

किशनगंज : शाहनवाज हुसैन ने कहा है की बिहारियों के जिश्म से नीतीश और लालू की हुकूमत कपड़ा छीनना चाह रही है। यही वजह है कि कपड़े पर वैट लगाकर आम लोगों पर बिला वजह इक्तेसदी बोझ रियासती हुकूमत बढ़ाने पर आमादा है। पहले से इक्तेसादी तंगी झेल रहे आम आदमी को अब कपड़े के लिए पड़ोसी रियासत पश्चिम बंगाल के मुकाबले में महंगे दर पर कपड़े खरीदने होंगे। इतना ही नहीं नीतीश सरकार मिठाई व समोसे पर टैक्स लगाकर इसे भी आम आदमी की पहुंच से दूर करना चाहती है।

ये बातें साबिक मर्क़ज़ी वजीर व भाजपा के कौमी तर्जुमान सैयद शाहनवाज हुसैन ने कही। वे पीर की शाम को एमजीएम कालेज के डैरेक्टर डा दिलीप कुमार जायसवाल के रिहाईशगाह पर सहाफियों से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि नीतीश-लालू की हुकुमत कारोबारियों से इन्तिखाबी बदला ले रही है। नीतीश बिहार सरकार के कप्तान भले हो लेकिन सरकार असल में लालू के इशारे पर ही चल रही है। बिहार के लोग एक सरकार चाह रही थी लेकिन यहां दो-दो सरकारें चल रही है।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवार्सिटी एक सेंटर यूनिवार्सिटी है। यहां मुल्क के पहले वज़ीरे आजम पंडित जवाहर लाल नेहरू, लाल बहादुर शास्त्री, इंदिरा गांधी के वक़्त से ही एएमयू सेंटर यूनिवार्सिटी है यहां अक्लियतों के लिए कोई रिजर्वेशन का तजवीज नहीं है। उन्होंने कहा सुप्रीम कोर्ट के फूल बेंच के फैसले के मुताबिक एएमयू एक मुल्क का सेंटर यूनिवार्सिटी है। जिसमें मर्क़ज़ी हुकूमत फी साल 1300 करोड़ रूपये ग्रांट देते है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस का काम है मोदी सरकार को बदनाम करना। इस मौके पर विधान पार्षद डा दिलीप कुमार जायसवाल, सीनियर भाजपा लीडर हरि राम अग्रवाल, राजेश्वर वैद, राजेश गुप्ता, शंकर दास वागिरह मौजूद थे।

 

TOPPOPULARRECENT