Thursday , August 17 2017
Home / Bihar News / बिहार इंतिख़ाब में एसेम्बली सीट से ज्यादा सियासी पार्टियां!

बिहार इंतिख़ाब में एसेम्बली सीट से ज्यादा सियासी पार्टियां!

पटना : बिहार में एसेम्बली इंतिख़ाब के लिए जितनी सीटें नहीं है उससे ज़्यादा सियासी पार्टियों ने रजिस्ट्रेशन के लिए एलेक्शन कमीशन में दरख्वास्त किया है। कमीशन को तकरीबन 256 दरख्वास्त मिले हैं जिनमें 58 पार्टियों के दरख्वास्त को कुबूल करते हुए उन्हे एलेक्शन सिंबल कमीशन ने अलोटमेंट कर दिए हैं। गुजिशता मंगल को ही 19 पार्टियों को सिंबल एलॉट कर इंतिख़ाब लड़ने के काबिल करार दिया गया है। 2010 एसेम्बली इंतिख़ाब में 90 पार्टियों ने उम्मीदवार उतारे थे।

चीफ़ एलेक्शन कमीशनर डा. नसीम जैदी ने माना है कि बड़े पैमाने पर सियासी पार्टियां रजिस्ट्रेशन के लिए दरख्वास्त कर रहे हैं। जुलाई से लेकर अब तक जितने पार्टियों ने दरख्वास्त किया है उनमें 58 को सिंबल एलॉट किए गए हैं और 37 पार्टियों ऐेसे हैं जो तमाम सीटों पर इंतिख़ाब लड़ रहे हैं। आने वाले दिनों में कई और पार्टियों को भी इंतिख़ाब लड़ने के लिए ऑर्डर दिया जा सकता है।

एलेक्शन कमीशन से जुड़े अफसरों का कहना है कि तय मेयार के मुताबिक इंतिखाबी पार्टियां के तौर में मंजूरी देने के लिए जितने भी दरख्वास्त मिलेंगे उन्हे मंजूरी देना पड़ेगा। नए रजिस्टर्ड पार्टियों के सिंबल भी ईवीएम मशीन पर होंगे। मतलब साफ है कि ईवीएम में बड़े पैमाने पर पार्टियों के इंतिख़ाब सिंबल को जगह दिया जाएगा। इसके अलावा अगर आज़ाद उम्मीदवारों और उनके एलेक्शन सिंबल को जगह मिलेगा। लोक आवाज पार्टी, आम जनता पार्टी राष्ट्रीय, भारतीय जनतांत्रिक जनता दल, भारतीय बहुजन कांग्रेस, राष्ट्रीय जनक्रांति पार्टी,संपूर्ण क्रांति दल वगैरह नाम से सियासी पार्टी एलेक्शन कमीशन में रजिस्टर कराए गए हैं। जिन 58 पार्टियों को सिंबल एलॉट किए गए हैं वह भी काफी दिलचस्प हैं। सिंबल में हरी मिर्च, आईसक्रीम, ब्रीफकेश, टैबलेट, गोभी, अंगूठी, डोली, लिफाफा वगैरह हैं।

 

TOPPOPULARRECENT