Saturday , August 19 2017
Home / Bihar News / बिहार इंतिख़ाब में ओवैसी की इंट्री

बिहार इंतिख़ाब में ओवैसी की इंट्री

किशनगंज : ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलेमीन के सदर व हैदराबाद के एमपी असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि नीतीश और लालू ने कांग्रेस के साथ मिल कर बिहार को बरबाद किया है। उन्हें बताना चाहिए कि सरहदी इलाक़े का अब तक तरक़्क़ी क्यों नहीं हुआ? आेवैसी ने बिहार के साथ-साथ सरहदी इलाक़े को भी खुसुसि पैकेज की मांग की और कहा कि इसके लिए दफा 371 के तहत स्पेशल डेवलपमेंट काउंसिल बनायी जाये़ वे बतौर चीफ़ गेस्ट इतवार को मुक़ामी रूईधासा मैदान में समाजी इंसाफ फ्रंट की तरफ से मुनक्कीद इजलास को खिताब कर रहे थे। ओवैसी ने कहा कि नीतीश कुमार 15 अगस्त के तकरीब में बता रहे थे रियासत में फूड प्रोडक्शन 45 लाख टन से बढ़ कर अब 61 लाख टन हो गया। लेकिन, इसमें सीमांचल इलाक़े का कितना हिस्सा रहा, यह वे क्यों नहीं बताते? सीएम की आंख की पुतली कमजोर हो गयी है, इसलिए सीमांचल की गुरबत उन्हें दिखाई नहीं देती।

उन्होंने कहा कि बेगूसराय जिले में 86 फीसद बच्चे मैट्रिक की इम्तिहान पास करते हैं, जबकि सीमांचल में महज़ 28 फीसद। चाहे किसी भी जाति व मजहब का बच्चा हो, वह किस तरह पढ़ेगा, इसकी जिम्मेवारी चीफ मिनिस्टर की होती है। हमारी लड़ाई इंसाफ की है। इस इलाके में बेरोजगारी पर बहस करते हुए उन्होंने कहा कि यहां के नौजवान बड़े शहरों में जाकर होटलों मे काम करते हैं या फिर उत्तराखंड में जाकर पहाड़ को तोड़ते हैं। आपके सामने एक सुनहरा मौका आनेवाला है, अपनी तकदीर बदलने की।

उन्होंने वजीरे आजम नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि सुषमा स्वराज एमपी में अकेली बयान देती हैं और मिस्टर पीएम एसी में आराम फरमाते हैं। ओवैसी ने वजीरे आजम के इंतिखाबी वादों को याद करते हुए कहा कि वे अब जुमले बन गये हैं। 15 लाख गरीबों के खाते में कब आयेंगे, अच्छे दिन कब आयेगा? उन्होंने कहा कि जंगलराज और तरक़्क़ी की सियासत एक साथ नहीं चल सकती। सीमांचल की अवाम चीख-चीख कर कह रही है मिस्टर चीफ मिनिस्टर हमारे इलाके में तरक़्क़ी क्यों नहीं हुआ? प्रोग्राम को समाजी इंसाफ फ्रंट के कोंवेनर साबिक़ एमएलए अख्तरूल र्इमान, आफताब अहमद, कामरेड फैयाज हाल, प्रो अनवर इरज, प्रो अब्दुल अहद, मौलाना इनामुल हक मदनी, मौलाना अनवार आलम, मासूम रहा वगैरह ने भी खिताब किया, जबकि सदारत प्रो इरफानुल हक ने की़।
ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तहादुल मुस्लिमीन के सरबराह असदुद्दीन ओवैसी ने आज नीतीश और राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर वार करते हुए उन्हें बिहार के सरहदी इलाके के पसमनदगी के लिए जिम्मेदार ठहराया। किशनगंज में आज एक अवामी इजलास को खिताब करते हुए ओवैसी ने वजीरे आला नीतीश कुमार का सरहदी इलाकों के तरक़्क़ी का दावा धोखा और झूठ का पुलिंदा है। इस इलाक़े में पसमनदगी आज भी बरकरार है।

उन्होंने सरहदी इलाकों के लोगों के लिए जद्दो-जहद का वादा करते हुए इल्ज़ाम लगाया कि नालंदा जिला में तालीम की बुनियादी सहूलत के बेहतर तरक़्क़ी की वजह से वहां से मैट्रिक की परीक्षा पास करने वालों को 12 करोड रूपये स्कॉलर्शिप पा लेते हैं जबकि सरहदी इलाकों के जिलों के तालिबे इल्म महज़ दो करोड़ रुपये पाते हैं।

 

 

 

TOPPOPULARRECENT