Sunday , September 24 2017
Home / Bihar News / बिहार के ताईन मरकज़ की नीयत ठीक नहीं : नीतीश

बिहार के ताईन मरकज़ की नीयत ठीक नहीं : नीतीश

पटना : वजीरे आला नीतीश कुमार ने पीर को खुसुसि रियासत के दर्जे पर मरकज़ी हुकूमत पर जम कर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर मरकज़ी हुकूमत बिहार की अवाम के साथ धोखा कर रही है। मरकज़ी हुकूमत की नीयत ही साफ नहीं है। वह लोगों को धोखे में रखना चाहती है। यह बिहार के साथ मजाक है। अवाम को यह समझ लेना चाहिए। बिहार विधानमंडल की कार्यवाही के बाद वजीरे आला ने कहा कि लोकसभा इंतिख़ाब के वक़्त बार-बार कहा गया कि खुसुसि रियासत का दर्जा देंगे।

खुसुसि मदद, खुसुसि अटेंशन देने की भी बात की गयी। कहा गया कि हुकूमत बनी, तो बिहार उनकी पहली तरजीह होगा। हुकूमत बने 15 महीने बीत गये हैं, लेकिन अब तक कोई ध्यान नहीं दिया है। अब तो एमपी से ऐलान भी कर दी है कि बिहार को खुसुसि रियासत का दर्जा देने का कोई तजवीज ही नहीं है।

नीतीश कुमार कहा कि खुसुसि रियासत के दर्जे के लिए हमने कई खत लिखी हैं। हम वजीरे आजम, मरकज़ी फायनेंस वज़ीर से मिल चुके हैं। तमाम पार्टियों की बैठक में जो मंजूरी बनी, उससे भी आगाह कराया जा चुका है।

पॉलिसी कमीशन ने भी इस पर मंजूरी जतायी है। बावजूद इसके हुकूमत अब न तो खुसुसि रियासत का दर्जा दे रही है और न ही खुसुसि पैकेज। गुजिशता दिनों वजीरे आजम ने कहा कि बढ़ा कर पैकेज देंगे, लेकिन अब देखना है कि इसमें कोई नयी चीज होती है या फिर पुराने ही पैकेज की पैकेजिंग की जाती है। वजीरे आजम ने पॉलिटिकल प्लेटफॉर्म से खुसुसि पैकेज की एलान करने की बात की है।

रियासती हुकूमत को इसके लिए आने की जरूरत नहीं यह भी कहा गया है। बिहार को खुसुसि दर्जे का क्या हश्र हुआ? सबके सामने है। अब देखना है कि पैकेज का क्या होता है। मरकज़ी हुकूमत की नीयत है कि खुसुसि पैकेज के जरिये एसेम्बली इंतिख़ाब में बिहार की आवाम से फाइदा लें। लोकसभा इंतिख़ाब के वक़्त तो जो वादा किया, उस पर अमल नहीं किया, अब और फाइदा लेने की बात कर रहे हैं।

उन्हें कोई फाइदा नहीं मिलनेवाला है। वजीरे आला ने कहा कि एसेम्बली इंतिख़ाब में भाजपा की तरफ से लोकसभा इंतिख़ाब में क्या-क्या वादे किये गये थे और उनका क्या हुआ, उसके ऑडियो सुनाये जायेंगे। बिहार के हर लोगों तक इस बात को पहुंचायी जायेगी।

TOPPOPULARRECENT