Sunday , August 20 2017
Home / Bihar News / बिहार जंगल राज के दौर में पासवान का इल्ज़ाम

बिहार जंगल राज के दौर में पासवान का इल्ज़ाम

पोर्टब्लेयर: मर्कज़ी वज़ीर बराए उमोर सारिफ़ीन तग़ज़िया-ओ-अवामी निज़ाम तक़सीम राम विलास पासवान ने आज इल्ज़ाम आइद किया कि अब बिहार ”जंगल राज’ के दौर से गुज़र रहा है और चीफ़ मिनिस्टर नीतीश कुमार को मुस्तफ़ी होजाना चाहिए। उन्होंने कहा कि बिहार के राय दहिंदों को अब अपनी ग़लतीयों का एहसास हो गया है कि उन्होंने मौजूदा हुकूमत को बरसर‍-ए‍-इक़्तेदार लाया।

वो जज़ीरा पोर्ट बलीरके दो-रोज़ा सरकारी दौरा पर यहां आए हुए हैं। उन्होंने इल्ज़ाम आइद किया कि बिहार में नज़म‍-ओ‍-ज़ब्त की सूरत-ए-हाल अबतर होती जा रही है और चीफ़ मिनिस्टर को मुस्तफ़ी होजाना चाहिए। नीतीश कुमार पर तन्क़ीद करते हुए एलजेपी क़ाइद ने कहा कि चीफ़ मिनिस्टर को अच्छी हुक्मरानी के बारे में बात करने का कोई हक़ नहीं है क्योंकि दिन धाड़े क़तल हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि गुज़िशता दो माह से एएसआई अशोक कुमार यादव को वैशाली में गोलीमार दी गई तामीराती कंपनी के दो इंजनियर्स बृजेश कुमार और मुकेश कुमार को दरभंगा में गोलीमार कर हलाक कर दिया गया। उन्होंने कहा कि ग़िज़ाई अजनास के एक ताजिर को मुज़फ़्फ़र पूर में गोलीमार दी गई।

उन्होंने कहा कि मर्कज़ ने काले बाज़ारियों के कुचलने के लिए जो मुहिम चलाई थी वो काफ़ी मोस्सर साबित हुई। उन्होंने कहा कि ज़ख़ीरा अंदोज़ों और ब्लैक मार्किट करने वालों को जो ग़िज़ाई अजनास जैसे दाल काले बाज़ार में फ़रोख़त करते हैं उनकी विज़ारत में उनके ख़िलाफ़ एक मुहिम चलाई थी जो बहुत मोस्सर साबित हुई।

रियासती हुकूमतों को सख़्ती से हिदायत दी जा चुकी है कि काले बाज़ारियों और ज़ख़ीरा अंदोज़ों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्य‌वाई की जाये। मर्कज़ी वज़ीर एंड विमान-ओ-निकोबार जज़ाइर के दो-रोज़ा दौरा पर यहां आए हुए हैं। उन्होंने इंतेज़ामिया की कोशिशों की सताइश की जिन्होंने जज़ीरा नील को पहला धोवें से पाक जज़ीरा बनादिया है।

उन्होंने कहा कि पूरे घराने जिनकी तादाद इन जज़ाइर में तक़रीबन एक हज़ार है एलपीजी कनेक्शन हासिल कर चुके हैं। लकड़ी या केरोसीन पकवान के लिए इस्तेमाल नहीं किए जाते। पासवान ने अपने मुतालिबा का इआदा किया कि ख़ानगी शोबों में भी दर्जे फ़हरिस्त ज़ातों को तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने चाहिए।

उन्होंने कहा क्योंकि सरकारी महिकमा अपनी मुलाज़िमतें ख़ानगी शोबा को आउट सोर्स कर रहे हैं इस लिए ख़ानगी शोबे में भी दर्जे फ़हरिस्त ज़ातों को तहफ़्फुज़ात फ़राहम किए जाने चाहिए। उन्होंने वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी के ‘स्वच्छ भारत अभियान की भरपूर सताइश की|

TOPPOPULARRECENT