Wednesday , September 20 2017
Home / Bihar/Jharkhand / बिहार में आग का कहर जारी, 12 सौ घर जले

बिहार में आग का कहर जारी, 12 सौ घर जले

पटना : उत्तर बिहार में आग का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार तीसरे दिन भी तांडव जारी रहा। इतवार को पूर्वी चम्पारण, पश्चिमी चंपारण, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर और दरभंगा में जिलों में हुईं अगलगी की वारदात में 1200 से ज्यादा घर जल गए। इस दौरान दो बच्चों की झुलसने से मौत हो गई। दर्जनों लोग जख्मी हुए हैं। कुल मिलाकर करोड़ों की जायदाद राख हो गई। मुतासिर परिवारों के लोग सड़क पर आ चुके हैं।
आग ने सबसे ज़्यादा कहर मग़रिबी चंपारण में बरपाया। जिले में तक़रीबन 325 घर जल गए। चौतरवा थाने के बरिअरवा में करीब 150 घर जल कर राख हो गये। तेज पछिया हवा के कारण पूरा गांव जल गया। दर्जन भर से ज्यादा बकरियां भी जल गयीं। आग बुझाने में कई लोग जख्मी हो गये। पिपरासी ब्लाक के मदरहवा मुसहर टोली में भी दो दर्जन से ज्यादा घर जल गये।
चिउटाहा के बलकहवा व सेमरा के पंचगवा में भी चार घर जल गये। साठी थाने के राम परसौना, योगापप्ती के चन्द्रौल, लौरिया गोनौली में लगी आग ने सैकड़ों घरों को अपनी चपेट में ले लिया। पक्के मकान भी जले हैं। दर्जनभर मवेशी भी जल गए। साठी के शेख इजहार के दो बच्चे व चन्दौल मजिस्टर यादव की बेटी प्रियंका (8) लापता हैं। मुफस्सिल थाने के बरवत सेना में हाईटेंशन तार से गिरी चिंगारी ने सौ बीघे गेहूं की फसल जला दी। बैरिया के बिनटोली में भी आठ बीघा गेहूं की फसल जल गई।
पूर्वी चम्पारण जिले के नौ ब्लाक में अगलगी की वारदात में 143 घर जलकर राख हो गये। 73 लाख रुपये से ज्यादा की ज़ायदाद जलने का अनुमान है। पिपराकोठी ब्लाक के हरपुर गांव में 50 घर जल गये। गांव के ही कमलदेव पासवान के बेटे (4) की झुलसकर मौत हो गयी। अभी भी तीन बच्चे लापता हैं। कोटवा प्रखंड के बथना खैरवा गांव में 40 घर जल गए। 22 लाख रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है। कल्याणपुर के भगवानपुर गांव में तीन घर जलने से दो लाख की क्षति हुई।
संग्रामपुर के सेढ़ा मठिया गांव में 11 घर जलने से 10 लाख से ज्यादा की संपत्ति का नुकसान हुआ। सिकरहना अनुमंडल के खैरवा में तीन व बलुआ में चार घर जलने से करीब 3 लाख की नुकसान अनुमान है। आग बुझाने के दौरान चार लोग जख्मी हो गये हैं। केसरिया के बैरिया गांव में पांच घर जलने से करीब चार लाख रुपये की क्षति हुई। घोड़ासहन में एक घर व 10 कळा गेहूं की फसल जल गयी। कोटवा के बथना खैरवा गांव में चालीस घर जलने से 22 लाख की नुकसान का अनुमान है।
समस्तीपुर के सिंघिया प्रखंड के लिलहौल और उजियारपुर प्रखंड के गावपुर गांव के तकरीबन दो सौ से अधिक घर जल गये। पटोरी के धमौन चौर में लगी आग ने अब तक एक हजार एकड़ में लगी गेहूं की फसल को स्वाहा कर दिया है। करीब दस किलोमीटर में फैली आग दो फायर ब्रिगेड से भी शांत नहीं हो पा रही है। मोहिउद्दीननगर, विभूतिपुर व वारिसनगर आदि प्रखंडों में भी अगलगी की सूचना है।
दरभंगा के बिरौल प्रखंड के सहसराम पंचायत के आधारगांव में अगलगी में दर्जनभर से अधिक घर जलकर राख हो गए। इस दौरान झुलसने से पांच साल के बच्चे की भी मौत हो गई। कमतौल थाना क्षेत्र के ततैला गांव में में शनिवार रात चार घर जल गए। अलीनगर के असकौल गांव में आधे दर्जन घर जल गए। उधर तारडीह प्रखंड के ठेंगहा में अपरा? में भी कई घर जल गए। कई पक्के मकान भी आग की चपेट में आ गए हैं। ताराडीह प्रखंड के कठहारा में भीषण अगलगी में 215 घर जलकर राख हो गए।
मुजफ्फरपुर जिले के कुढनी प्रखंड के मनियारी गांव में एक सौ घर जल गए। देवरियाकोठी के देवरिया में दो दर्जन से अधिक, औराई में पांच, मोतीपुर में पांच, गायघाट में तीन, मड़वन के बटौना में 10 और कांटी के बंगरापप्ती गांव में एक दर्जन घर जल गए। हथौड़ी, बोचहा और सकरा प्रखंडों में कई बीघा गेहूं की फसल भी जल गयी।

TOPPOPULARRECENT