Friday , October 20 2017
Home / Bihar News / बिहार : शराबबंदी का असर, शांतिपूर्ण हुआ “एकम्बा” पंचायत चुनाव

बिहार : शराबबंदी का असर, शांतिपूर्ण हुआ “एकम्बा” पंचायत चुनाव

जलालगढ़: बिहार में हो रहे पंचायत चुनाव अब अंतिम चरण की ओर रवां हैं लेकिन इस बीच एक आध छोटे मोटे मामले को छोड़ कर कहीं कोई बड़ा क्राइम नहीं हुआ जबकि पंचायत चुनाव में  राज्यसभा- लोकसभा  चुनाव से भी ज़्यादा क्रेज़ लोगों में होता है जो देखने को मिला लेकिन इस क्रेज़ के साथ साथ बहुत झगड़े, नशाखोरी और क्राइम भी होते रहे हैं लेकिन शराबबंदी के बाद हुए जलालगढ़ प्रखंड के एकम्बा पंचायत चुनाव में काफ़ी शांति देखने को मिला. शराबबंदी से पहले चुनाव में उम्मीदवार एक बड़ी टोली के साथ कैम्पेन करते थे और खूब शोर शराबा होता था और साथ ही साथ नारे बाज़ी भी लेकिन शराबबंदी के बाद हुए चुनाव में उम्मीदवार काफ़ी अकेले पड़ गए और बिना शोर शराबा के यह चुनाव अंजाम तक पहुँचा  है और क्राइम रेट भी कम हुए हैं.

2

एकम्बा पंचायत के चुनावी आंकड़े:

वार्ड संख्या 

मतदाता  मतदान  %
1 489 375

76.6

2

477 397 83.2

3

624 462 74

4

458

378

82.5

5 516 380

73.6

6

573 466 81.3

7

522

382

73.1

8

440

311

70.6

9

401

311

77.5

10 385 238

61.8

11

816 631 77.3

12

571 404 70.7
13 513 379

73.8

14

491

389

79.2

15 483 382

79

Total 7759 5885

75.8

आपको बता दें कि 15 वार्ड वाले एकम्बा पंचायत में हुए चुनाव में 75% वोटिंग हुई जो पहले से बहुत ज़्यादा है. पंचायत में 7759 मतदाता में से 44% मुस्लिम आबादी है. पंचायत में मुखिया के 10 उम्मीदवार में से 4 मुस्लिम महिला उम्मीदवार और 6 हिन्दू उम्मीदवार खड़े थे. सूत्रों के अनुसार श्यामानंद साह और किश्वर जहाँ (मुस्लिम) में कांटे की टक्कर बताया जा रहा है, श्यामानन्द साह से हुई वार्ता  और सर्वेक्षण के अनुसार श्यामानन्द साह को 1700 वोटों के दावेदार माना जा रहा है। वहीं 8–15 वार्ड में से पंचायत समिति पद के लिए 7 उम्मीदवार में से काशीनाथ मजुमदार और शाहीना प्रवीन में कांटे की टक्कर की उम्मीद की जा रही है.

3

TOPPOPULARRECENT