Friday , August 18 2017
Home / India / बीफ प्रतिबंध: वीएचपी कार्यकर्ताओं ने तमिलनाडु के लाइसेंसधारी मवेशी व्यापारियों को पीटा

बीफ प्रतिबंध: वीएचपी कार्यकर्ताओं ने तमिलनाडु के लाइसेंसधारी मवेशी व्यापारियों को पीटा

केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में मवेशी व्यापार पर लगाए गए प्रतिबन्ध ने उन्ही की एक पहल के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी है । पार्सल यातायात का विस्तार करने के लिए 24 मई को सरकार ने पशुओ की ढुलाई की योजना की घोषणा की थी । यह घोषणा दक्षिण रेलवे द्वारा की गयी थी।

केंद्र सरकार की नियमो का पालन करते हुए और सभी कानूनी दस्तावेज होने के बावजूद, 25 लोगो ने स्टेशन मे घुसकर एक आदमी को मारा और उसे एक खम्बे से बाँध दिया। दस्तावेज़ों से पता चलता है की वे पशु स्वस्थ थे और उन्हें एक निजी फार्म द्वारा पशुपालन विभाग को भेजा जा रहा था।

शरारती तावतो ने खुद को बजरंद दाल का बताया । बजरंग दाल एक अतिवादी हिंदू संगठन है जो विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) का हिस्सा है और आरएसएस परिवार का सदस्य है।

यह भी कहा जा रहा है की किसी भी सुरक्षा कर्मचारी या सुरक्षा अधिकारी ने उन लोगो को रोकने की कोशिश नहीं करी जब वे स्थानीय मीडिया के सामने अपने कृत्य पर गर्व महसूस कर रहे थे। सहायता केवल रेलवे पुलिस बल कार्मिकों के रूप में आयी, परन्तु वो भी एक घंटे के बाद जब उन्होंने आकर श्रमिकों को बचाया।

कुछ घंटो बाद , स्टेशन अधीक्षक ने जीआरपी के पास एक शिकायत दर्ज कराई, जिसमें बताया गया कि 25 अज्ञात व्यक्तियों ने दो डेयरी फार्म श्रमिकों पर हमला किया। अब तक, बजरंग दल के दो कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया है और सरकारी रेलवे पुलिस ने कहा है कि इस संबंध में अधिक गिरफ्तारियां जल्द ही होने की संभावना है।

     

TOPPOPULARRECENT