Wednesday , July 26 2017
Home / Sports / बीसीसीआई और पीसीबी के बीच दुबई में हुई मीटिंग बेनतीजा साबित

बीसीसीआई और पीसीबी के बीच दुबई में हुई मीटिंग बेनतीजा साबित

दुबई : बीसीसीआई और पीसीबी के बीच सोमवार को दुबई में हुई मीटिंग बेनतीजा साबित हुई। भारत सरकार की ओर से किसी भी तरह की द्विपक्षीय सीरीज को मंजूरी न दिए जाने के चलते इस बैठक का कोई परिणाम नहीं निकल सका। पीसीबी की ओर से 60 मिलियन डॉलर का कॉम्पेन्सेशन मांगने को लेकर हुई बैठक में बीसीसीआई के जॉइंट सेक्रटरी अमिताभ चौधरी, सीईओ राहुल जौहरी और जनरल मैनेजर (क्रिकेट ऑपरेशंस) एमवी श्रीधर ने अपने पाकिस्तानी समकक्षों से मुलाकात की।

बीसीसीआई की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘दुबई में बीसीसीआई और पीसीबी के प्रतिनिधिमंडलों ने मुलाकात की और अपनी स्थिति स्पष्ट की। यह मीटिंग दोस्ताना माहौल में संपन्न हुई और इस बातचीत के ब्योरा दोनों बोर्ड्स को सौंपा जाएगा।’ बीसीसीआई के सूत्र ने बताया कि इस मीटिंग के दौरान पीसीबी के अधिकारियों ने 2015 से 2023 के गदौरान दोनों देशों के बीच 5 द्विपक्षीय सीरीज कराने के एमओयू पर आगे न बढ़ने पर 60 मिलियन डॉलर की क्षतिपूर्ति की मांग दोहराई।

हालांकि दोनों देशों के बीच सितंबर में सीमित ओवरों की सीरीज कराने को लेकर चर्चा हुई। सूत्रों का कहना है कि इस मामले में बीसीसीआई अपनी ओर से पीसीबी को कोई राशि देने के मूड में नहीं है। बीसीसीआई का स्पष्ट स्टैंड है कि पाकिस्तान के साथ खेलने से पहले सरकार की मंजूरी जरूरी है। बीसीसीआई ने पाकिस्तान से कॉम्पेन्सेशन क्लेम वापस लेने की भी मांग की। बोर्ड के एक सूत्र ने कहा, ‘खेल मंत्री के बयान से साफ है कि पाकिस्तान के खिलाफ जल्दी में किसी सीरीज का आयोजन नहीं हो सकता। हमने पीसीबी को स्पष्ट कर दिया है कि जब तक सरकार से मंजूरी नहीं मिलेगी, हम यूएई जैसे तटस्थ स्थान पर भी पाक से सीरीज नहीं खेल सकते।’

TOPPOPULARRECENT