Wednesday , October 18 2017
Home / India / बी जे पी को मुसलमानों और कश्मीर के ताल्लुक़ से फ़िक्र तबदील करने मुलाय‌म सिंह यादव का मश्वरा

बी जे पी को मुसलमानों और कश्मीर के ताल्लुक़ से फ़िक्र तबदील करने मुलाय‌म सिंह यादव का मश्वरा

नई दिल्ली, 28 फ़रवरी: समाजवादी पार्टी लीडर मुलाय‌म सिंह यादव ने आज लोक सभा में ये कहते हुए तमाम को हैरत में डाल दिया कि उन की पार्टी बी जे पी के ताल्लुक़ से अपना नुक़्ता-ए-नज़र तबदील करने आमादा है, बशर्तिके बी जे पी मुसलमानों और कश्मीर के

नई दिल्ली, 28 फ़रवरी: समाजवादी पार्टी लीडर मुलाय‌म सिंह यादव ने आज लोक सभा में ये कहते हुए तमाम को हैरत में डाल दिया कि उन की पार्टी बी जे पी के ताल्लुक़ से अपना नुक़्ता-ए-नज़र तबदील करने आमादा है, बशर्तिके बी जे पी मुसलमानों और कश्मीर के ताल्लुक़ से उस की पालिसी और फ़िक्र में तबदीली लाएं।

सदर जमहूरिया के ख़ुतबा पर तहरीके तशक्कुर पर ख़िताब करते हुए मुलाय‌म सिंह यादव ने हुकूमत को शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाया और कहा कि वो मुख़्तलिफ़ मौज़ूआत जैसे मईशत दाख़िली सलामती और ख़ारिजा पालिसी के मामले में नाकाम होगई है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी का हुब्बुल व्तनी ज़बान और सरहदी हिफ़ाज़त के मामले में बी जे पी से कोई इख़तिलाफ़ नहीं है, लेकिन असल अप्पोज़ीशन जमात तक वो पहुंच नहीं सकती।

उन्होंने कहा कि अगर बी जे पी मुसलमानों और कश्मीर के बारे में अपना मौक़िफ़ तबदील करती है तो हम भी बी जे पी के ताल्लुक़ से अपनी राय बदल देंगे। मुलाय‌म सिंह यादव ने ग़ैरमामूली तौर पर सदर बी जे पी राजनाथ सिंह की सताइश की, जिन्होंने तहरीके तशक्कुर पर अपने ख़िताब में सोश्यल अज़म की बात की थी। मुलाय‌म सिंह यादव ने कहा कि राम मंदिर एक बंद बाब है और बी जे पी ये मसला दुबारा नहीं उठा सकती। हमारे बी जे पी के साथ मस्जिद के मसले पर इख़तिलाफ़ात हैं ।

मुलाय‌म सिंह यादव ने कहा कि मुसलमान बेहतरीन ज़ेवर साज़ हैं और आप (बी जे पी) और जो दूसरी तरफ़ (सरकारी बेंच्स) पर बैठे हैं वो उन्हें जे़वरात को इस्तिमाल करते हैं। मुलाय‌म सिंह यादव ने कहा कि अक़ल्लियतों के बारे में बी जे पी के तर्ज़े अमल में सुबह के वक़्त होने वाले आर एस एस ट्रेनिंग शाखा के ज़रीये तबदीली लाई जा सकती है। हैदराबाद धमाकों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि मुल्क में शहरी ख़ौफ़ज़दा हैं और हुकूमत इन खतरों से आम‌ तौर पर निमटने में नाकाम है। उन्होंने हुकूमत से मुसलमानों की तरक़्क़ी के लिए सच्चर कमेटी और रंगनाथ मिश्रा कमीशन की सिफ़ारिशात पर अमल आवरी का भी मुतालिबा किया।

TOPPOPULARRECENT