Sunday , October 22 2017
Home / District News / बी जे पी पर मुसलमानों के एतेमाद में इज़ाफ़ा

बी जे पी पर मुसलमानों के एतेमाद में इज़ाफ़ा

मर्कज़ी वज़ीरे क़लीयती उमूर नजमा हेपतुल्ला ने वादा किया कि सब के लिए तरक़्क़ी से मुताल्लिक़ बी जे पी के एजंडा के सबब इस पार्टी ( बी जे पी) पर मुसलमानों के एतेमाद में इज़ाफ़ा होरहा है।

मर्कज़ी वज़ीरे क़लीयती उमूर नजमा हेपतुल्ला ने वादा किया कि सब के लिए तरक़्क़ी से मुताल्लिक़ बी जे पी के एजंडा के सबब इस पार्टी ( बी जे पी) पर मुसलमानों के एतेमाद में इज़ाफ़ा होरहा है।

उन्होंने इस उम्मीद का इज़हार किया कि वोट बैंक सियासत बहुत जल्द क़िस्सा पारीना बन जाएगी। नजमा अकबर अली हेपतुल्ला ने कहा कि (हालिया लोक सभा चुनाव में) मुसलमानों ने बी जे पी को वोट दिया है और वो क़दरे आहिस्ता बी जे पी पर एतेमाद करने लगे हैं क्युंकि हिंदुस्तान की तारीख़ में पहली मर्तबा किसी लीडर (नरेंद्र मोदी ) ने क़ौमी चुनाव में तरक़्क़ी पर तवज्जा मर्कूज़ की नीज़ सारे मुल्क में अक्सरीयत और अक़लियतों दोनों के लिए शम्मो लियाती तरक़्क़ी की बात कही इस तरक़्क़ी में मुस्लमान भी शामिल हैं।

नजमा ने कहा कि उन्हों (नरेंद्र मोदी) ने सब के बारे में बात की और जब उन्होंने तरक़्क़ी की बात की अक़लियतों खास्कर मुसलमानों ने उन्हें (मोदी को) वोट दिया। ग़ालिबन सद फ़ीसद मुसलमानों ने तो उन्हें वोट नहीं दिया लेकिन काबिल लिहाज़ वोट दिए हैं और आहिस्ता आहिस्ता बी जे पी इन (मुसलमानों) के एतेमाद में इज़ाफ़ा होरहा है। राज्य सभा की साबिक़ नायब सदर नशीन नजमा हेपतुल्ला ने कहा कि बिला तफ़रीक़ ज़ात पात, मज़हब इलाक़ा-ओ-ज़बान अवाम ने मोदी को वोट दिया।

उन्होंने कहा कि उन्हें पुख़्ता यक़ीन हैके मुस्तक़बिल में वोट बैंक सियासत का नज़रिया बाक़ी नहीं रहे गा।कांग्रेस का नाम लिए बगै़र इस पर तन्क़ीद करते हुए नजमा ने कहा कि माज़ी की हुकूमतों ने अक़लियती बहबूद पर सिर्फ़ लफ़्ज़ी जमा ख़र्च की है और फ़ी अलवा कई अक़लियतों के लिए कुछ नहीं किया। अक़लियतों की तरक़्क़ी-ओ-बहबूद से मुताल्लिक़ सच्चर कमेटी और दुसरे रिपोर्टस उन्हें (कांग्रेस को) बेनकाब करते हैं (उन्होंने अक़लियतों के लिए कुछ नहीं क्या)। इस सवाल पर कि आया बाहमी ताल्लुक़ात में बेहतरी के लिए पाकिस्तान का दौरा करना ख़ुद उन (मोदी) पर मुनहसिर है।

TOPPOPULARRECENT