Monday , August 21 2017
Home / India / बी जे पी से पी डी पी के तर्क-ए-तअल्लुक़ पर हैरत नहीं होगी

बी जे पी से पी डी पी के तर्क-ए-तअल्लुक़ पर हैरत नहीं होगी

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में अपोज़िशन नेशनल कान्फ़्रेंस के लीडर उमर अब्दुल्लाह ने आज कहा कि हुक्मराँ पी डी पी अगर किसी वक़्त बी जे पी से अपनी मुफ़ाहमत ख़त्म करते हुए कांग्रेस और आज़ाद उम्मीदवारों के साथ मख़लूत हुकूमत बनाती है तो इस पर उन्हें कोई हैरत नहीं होगी।

मुफ़्ती मुहम्मद सईद की पार्टी पी डी पी ने इस इमकान को मुस्तरद कर दिया है। उमर अब्दुल्लाह ने ट्वीटर पर लिखा कि मोदी मुफ़्ती समझौता के बाद जहां तक मुफ़्ती साहिब और उनकी पार्टी का ताल्लुक़ है इस पर मुझे कोई हैरत नहीं होती, जुनैद। उमर अब्दुल्लाह दरअसल अपनी पार्टी के एक तर्जुमान जुनैद अज़ीम मट्टू के एक ट्वीटर पोस्ट का जवाब दे रहे थे।

जुनैद अज़ीम मट्टू ने दावा किया था कि ये अफ़्वाहें गशत कर रही हैं कि पी डी पी अब कांग्रेस और चंद आज़ाद अरकान से मुफ़ाहमत की कोशिश कर रही है। पी डी पी ने ये कहते हुए इन दावओं को मुस्तरद कर दिया कि पी डी पी बी जे पी मख़लूत हुकूमत अपनी मीयाद मुकम्मल करेगी क्योंकि बी जे पी से इत्तेहाद के सबब रियासत के तमाम इलाक़ों को क़रीब लाने और जम्मू-ओ-कश्मीर को मुत्तहिद रखने का मौक़ा फ़राहम हुआ है।

पी डी पी के आला तर्जुमान महबूब बेग ने कहा कि पी डी पी के सरपरस्त मुफ़्ती मुहम्मद सईद ने बारीकबीनी से ग़ौरोफ़िक्र और पार्टी के तमाम क़ाइदीन से मुशावरत के बाद बी जे पी से मुफ़ाहमत का फ़ैसला किया था। बैग जो असेम्बली इंतेख़ाबात से क़बल नेशनल कान्फ़्रेंस से अलाहदगी इख़तियार करते हुए पी डी पी में शामिल हुए हैं कहा कि उमर अब्दुल्लाह को चाहिए कि वो पी डी पी बी जे पी हुकूमत के मसाइल के बारे में ज़्यादा परेशान होना छोड़ दें।

TOPPOPULARRECENT