Wednesday , September 20 2017
Home / Khaas Khabar / बी सी कमीशन का क़ियाम और तहफ़्फुज़ात के लिए मुस्लमान कमरबस्ता

बी सी कमीशन का क़ियाम और तहफ़्फुज़ात के लिए मुस्लमान कमरबस्ता

हैदराबाद 18 सितंबर: रियासत तेलंगाना में 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात के लिए जारी तहरीक को उल्मा बिरादरी की भरपूर मदद हासिल हो रही है।

शहर के अलावा निज़ामबाद, आदिलाबाद, वरंगल, महबूबनगर, मेदक और खम्मम से ताल्लुक़ रखने वाले उल्मा, मशाइख़ीन, मसाजिद कमेटीयों के सदर, इमाम-ओ-मोअज़्ज़िन हज़रात रोज़नामा सियासत की तहरीक की ताईद कर रहे हैं।

चूँकि रोज़नामा सियासत की तरफ से शुरू करदा तहरीक सिर्फ और सिर्फ मुस्लिम मुफ़ाद के हक़ में है और सियासत की इस 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात तहरीक ग़ैर सियासी है बल्कि मुस्लिम नौजवान नसल की ताअमीर-ए-नौ और मुसलमानों की तरक़्क़ी की ग़रज़ से शुरू की गई है और सियासत की तहरीक काफ़ी उल-वक़्त निशाना रियासती टी आर एस हुकूमत है, ताके हुकूमत पर दबाओ डालते हुए बी सी कमीशन के क़ियाम को यक़ीनी बनाया जाये और मुस्लिम तहफ़्फुज़ात की सिफ़ारिश के ज़रीये तहफ़्फुज़ात को यक़ीनी बनाया जाये।

12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात तहरीक की कमान न्यूज़ एडीटर सियासत आमिर अली ख़ान सँभाले हुए हैं। तहरीक के मक़सद को बार-बार वाज़िह कर देने के बाद दुबारा मतन को जारी करने का फ़ैसला किया है और अख़बार के सफ़ा नंबर (8) पर मतन को जारी किया जा रहा है जिसका अहम मक़सद क़ानूनी एतेबार से नुमाइंदगी तैयार की जाये ताके तहफ़्फुज़ात को हर क़ानूनी रुकावट से बचाया जा सके।

12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात की तहरीक की एहमीयत को महसूस करते हुए उल्मा बिरादरी ने निज़ामबाद और आदिलाबाद में हंगामी इजलास मुनाक़िद किया और तमाम मुसलमानों से ख़ाहिश की के वो मुस्लिम काज़ से जुड़ी हुई इस अहम तहरीक का हिस्सा बनें।

तहरीक को ना सिर्फ मज़बूत करें बल्कि उस की भरपूर ताईद करते हुए हुसूल तहफ़्फुज़ात को यक़ीनी बनाएँ। खम्मम से सय्यद बशीर अहमद ख़तीब मस्जिद की क़ियादत में एक वफ़द ने न्यूज़ एडीटर सियासत आमिर अली ख़ां से मुलाक़ात करते हुए तहरीक के आग़ाज़ पर उन्हें मुबारकबाद पेश की और मतन की कापियों को हासिल किया। उन्होंने मुस्लिम तहफ़्फुज़ात के ताल्लुक़ से हर गोशे के मुसलमानों में शऊर बेदार करते हुए तहरीक को मज़बूत करने का इरादा ज़ाहिर किया।

निर्मल के मज़हबी रहनुमा 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात तहरीक में सबसे आगे हैं। निर्मल की मुख़्तलिफ़ मसाजिद के ख़तीब और अइम्मा ने एक आला सतह का मज़हबी इजलास तलब किया और सियासत की तहरीक को मज़बूत करने लायेहा-ए-अमल तए किया।

नमाज़-ए-जुमा के वक़्त और ईदउलअज़हा के मौके पर ईद गाहों और मसाजिद से 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात के लिए नुमाइंदगी करने की अपील की जाएगी। निर्मल के उल्मा ने शहर की तन्ज़ीमों के नुमाइंदों और मोअज़्ज़िज़ीन शहर से गुज़ारिश की हैके वो जल्द अज़ जल्द 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात तहरीक का हिस्सा बन जाएं।

उल्मा ने सियासत की तहरीक की ज़बरदस्त सताइश की और सियासत के ज़िम्मेदारों को मुबारकबाद पेश की। खम्मम के आलमेदिन का कहना हैके रोज़नामा सियासत के किसी भी काज़ से जुड़ना सवाब जारीया है।

सियासत मिल्लत फ़ंड में तआवुन हो या फिर 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात की ताईद जिसका रास्त फ़ायदा मुस्लिम क़ौम को होता है जो सवाब जारीया का सबब बनता है।

TOPPOPULARRECENT