Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / बेक़सूर नौजवानों पर आइद मुक़द्दमात कुलअदम करने का मुतालिबा

बेक़सूर नौजवानों पर आइद मुक़द्दमात कुलअदम करने का मुतालिबा

हैदराबाद ०५ । मई : हलक़ा अस‌म्बली मुशीर आबाद में हनूमान जयंती 2010 के मौक़ा पर बेक़सूर मुस्लिम और हिन्दू नौजवानों की गिरफ़्तारी और उन पर आइद मुक़द्दमात को कुलअदम क़रार देने के लिए रियास्ती वज़ीर-ए-दाख़िला मुहतरमा सबीता इंदिरा रेड्

हैदराबाद ०५ । मई : हलक़ा अस‌म्बली मुशीर आबाद में हनूमान जयंती 2010 के मौक़ा पर बेक़सूर मुस्लिम और हिन्दू नौजवानों की गिरफ़्तारी और उन पर आइद मुक़द्दमात को कुलअदम क़रार देने के लिए रियास्ती वज़ीर-ए-दाख़िला मुहतरमा सबीता इंदिरा रेड्डी से उन के मकान पर डिप्टी मेयर हैदराबाद जी राजकुमार , रुकन असम्बली मुशीर आबाद टी मानीमां के फ़र्ज़ंद टी सरीनवास रेड्डी और भोलकपोर वार्ड कारपोरेटर ऐस मुहम्मद वाजिद हुसैन की क़ियादत में वफ़द मुलाक़ात करते हुए एक तफ़सीली याददाश्त हवाले किया ।

याददाश्त में मुशीर आबाद पुलिस स्टेशन हदूद में दर्ज करदा मुक़द्दमात में जिन मुस्लिम और हिन्दू नौजवानों पर इल्ज़ामात आइद करते हुए गिरफ़्तार किया गया था वो एमटेक , ग्रैजूएशन , इंटर मीडीट , ऐस एससी के तलबा-ए-अपने सालाना इम्तिहानात की तैय्यारी में मसरूफ़ थे और दीगर नौजवान जो बहुत ही संजीदा और शरीफ़ ख़ानदान से ताल्लुक़ रखते हैं अपने कारोबार में मसरूफ़ थे । उन्हें ग़ैर ज़रूरी तौर पर गिरफ़्तार किया गया ।

जिस की वजह से उन नौजवानों का मुस्तक़बिल तारीक होजाने और उन के अफ़राद ख़ानदान मुसलसल पुलिस की जानिब से हर मामूली वाक़िया पर पुलिस स्टेशन तलब करने से ज़हनी तौर पर उलझन का शिकार हैं । कारपोरीटर जनाब ऐस मुहम्मद वाजिद हुसैन ने तफ़सीलात बताते हुए कहा कि पिछले दिनों शहर में बेक़सूर मुस्लिम नौजवान ने मुसलसल पुलिस की हुर्रा सानी से ख़ुदकुशी का क़दम उठाया । जिस के अफ़राद ख़ानदान आज भी मुतास्सिर हैं । ऐसे हालात की रोक थाम के लिए हुकूमत को चाहिए कि वो ज़रूरी इक़दामात करे ।

रियास्ती वज़ीर-ए-दाख़िला सबीता इंदिरा रेड्डी ने वफ़द को तीक़न दिया कि इन मुक़द्दमात के मुकम्मल तहक़ीक़ात के बाद कुलअदम क़रार देने के लिए हर मुम्किन कोशिश की जाएगी। इस वफ़द में कांग्रेस क़ाइद जनाब ख़लीक़ अलरहमन , सय्यद निज़ाम उद्दीन , पी मुहम्मद रहीम उद्दीन , लियाक़त सुलतान के इलावा भास्कर , सी के शंकर , साई , नयाज़ अहमद , इला-ए-उद्दीन भी शामिल थे ।।

TOPPOPULARRECENT