Tuesday , October 24 2017
Home / Khaas Khabar / बेटे के सेक्स स्कैण्डल में फंसे बिहार के CM

बेटे के सेक्स स्कैण्डल में फंसे बिहार के CM

बिहार के वज़ीर ए आला जीतन राम मांझी को अपने बेटे प्रवीण मांझी की करतूत की वजह से शर्मिदगी उठानी प़ड रही है। बेटे के नाजायज़ ताल्लुकात की वजह से मांझी की कुर्सी खतरे में प़डती दिख रही है। अपोजिशन पार्टी भाजपा ने मांझी के इस्तीफे की मा

बिहार के वज़ीर ए आला जीतन राम मांझी को अपने बेटे प्रवीण मांझी की करतूत की वजह से शर्मिदगी उठानी प़ड रही है। बेटे के नाजायज़ ताल्लुकात की वजह से मांझी की कुर्सी खतरे में प़डती दिख रही है। अपोजिशन पार्टी भाजपा ने मांझी के इस्तीफे की मांग की है।

पुलिस ज़राये के हवाले से बताया कि प्रवीण मांझी और बिहार मिलिट्री पुलिस की एक खातून कांस्टेबल (सादी वर्दी) मंगल के रोज़ एसयूवी में बोध गया के एक होटल पहुंचे। होटल के पार्किग लॉट में अपने सेक्युरिटी गार्ड को छोडकर प्रवीण मांझी ने होटल मैनेजर से डिलक्स सुइट बुक करने के लिए कहा। होटल के मुलाज़्मीन को मालूम था कि प्रवीण मांझी वज़ीर ए आला का बेटा है इसलिए उन्होंने फौरन डिमांड पूरी कर दी।

पुलिस वालों का कहना है कि ऐसा पहली बार नहीं है जब प्रवीण मांझी ने इस तरह की गुजारिश किया है, खातून कांस्टेबल के साथ वह पहले भी कई बार होटल में जा चुका है। प्रवीण होटल में रूकने के बाद बिल नहीं चुकाता था। इस वजह से होटल का मालिक तंग आ चुका है।

काफी रकम बकाया होने की वजह से होटल के स्टाफ ने प्रवीण और खातून कांस्टेबल को रूम में बंद कर दिया। बताया जा रहा है कि बकाया बिल को लेकर लोगों के सामने प्रवीण मांझी और होटल मालिक के बीच कहासुनी भी हुई। होटल में रूके दिगर मेहमान जब जमा हो गए तो प्रवीण ने मदद मांगी। इसके फौरन बाद एक शख्स ने खुद को प्रवीण का अंकल बताते हुए होटल स्टाफ को फोन किए।

जब प्रवीण मांझी ने बकाया 6 हजार रूपए की अदायगी की तब जाकर उसे रिहा किया गया। एक पुलिस आफीसर ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि दो बालिग का होटल रूम शेयर करना कोई काबिल दस्त अंदाज़ी जराइम (Cognizable offense) नहीं है। इस ताल्लुक में कोई शिकायत कार्रवाई के लिए लायक नहीं थी। भाजपा ने दावा किया कि वज़ीर ए आला का बेटा खातून कांस्टेबल के साथ इस्तेहसाली ताल्लुकात (Exploitative relations) में है।

बिहार भाजपा के जनरल सेक्रेटरी सूरज नंदन कुशवाहा ने कहा कि सीएम को अपने बेटे की खातून कांस्टेबल के साथ मौज मस्ती की इख्लाकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए। कुशवाहा ने दावा किया कि या तो होटल के मालिक या वहां मौजूद लोगों में से किसी ने बोध गया पुलिस को इस बारे में खबर दी थी और उन्हें बुलाया था। पुलिस मौके पर पहुंची और अपनी जेब से बिल भरी। कुशवाहा ने इल्ज़ाम लगाया कि बोध गया पुलिस मामले को दबाने में लगी है क्योंकि वाकिया में सीएम का बेटा शामिल है और वाकिया उनके आबाई जिले की है। इसके बावजूद मगध इलाके के पूरे मीडिया ने वाकिया को कवर किया है।

TOPPOPULARRECENT