Wednesday , October 18 2017
Home / test / बैंकों में कतार है, आम आदमी लाचार है, प्रधानमंत्री जिम्मेदार है: कपिल सिब्बल

बैंकों में कतार है, आम आदमी लाचार है, प्रधानमंत्री जिम्मेदार है: कपिल सिब्बल

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोटों को बंद किए जाने के फैसले तंज किया है। कपिल सिब्बल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि बिना सोचे समझे देश के साथ मजाक हो रहा है। उन्होंने कहा कि यह फैसला हताशा में लिया गया है, जो कि पूरी तरह से गलत है। ऐसे हालात में जब प्रधानमंत्री को देश में होना चाहिए था वो जापान में हैं।

सिब्बल ने तंज करते हुए कहा कि बैंकों में कतार है, आम आदमी लाचार है, पीएम जिम्मेदार है। उन्होंने प्रधानमंत्री से सवाल किया कि जब मेरे पास अकाउंट है और पैसे भी मेरे हैं तो फिर मैं लाइन में क्यों लगूं। इससे पगले पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने भी केंद्र सरकार के इस फैसले पर सवाल उठाए थे। उन्होंने भाजपा पर तीखा हमला बोलते हुए कहा था कि जो भाजपा अपने सभी कार्यक्रमों में कालेधन का उपयोग करती रही है। अब वह उसके खिलाफ मुहिम चला रही है। उन्होंने मांग की कि नरेंद्र मोदी के वह बनने से पहले भाजपा ने अपने कार्यक्रमों में जो भी खर्च किया है उसकी जांच के लिए एक आयोग गठित किया जाना चाहिए, जिससे पार्टी की सच्चाई सामने निकलकर आ सके।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने 9 नवंबर को टीवी पर प्रसारित अपने संदेश में 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने का ऐलान किया था। हालांकि उन्होंने कुछ जगहों जैसे अस्पतालों,  दवा दुकानों, रेलवे टिकट काउंटरों समेत कुछ जगहों पर दो दिनों के लिए पूराने नोटों से लेन-देन की छूट दी थी, लेकिन देश के अधिकतर हिस्सों में इसका पालन होता नज़र नहीं आ रहा है।

TOPPOPULARRECENT