Wednesday , September 27 2017
Home / Sports / बॉलिंग कोच के रूप में टीम इंडिया में वापस हुए जहीर खान

बॉलिंग कोच के रूप में टीम इंडिया में वापस हुए जहीर खान

नयी दिल्ली : पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान की टीम इंडिया में वापसी हुई है, लेकिन गेंदबाज के रूप में नहीं बल्कि गेंदबजी कोच के रूप में. इसके साथ ही दीवार के नाम से मशहूर राहुल द्रविड की भी टीम इंडिया में इंट्री हुई है, लेकिन नयी जिम्‍मेवारियों के साथ. इधर टीम इंडिया के पूर्व टीम निदेशक रवि शास्त्री की भारतीय क्रिकेट टीम में शानदार वापसी हुई है. शास्‍त्री को अगले विश्व कप तक के लिए हेड कोच चुन लिया गया है.

शास्त्री पूर्व स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले का स्थान लेंगे जिन्होंने कप्तान विराट कोहली के साथ मतभेदों के बाद पिछले दिनों कोच का पद छोड़ दिया था. कुंबले और कोहली के मतभेदों की खूब चर्चा हुई थी. भारतीय टीम की गेंदबाजी खासकर पेस बैटरी को मजबूत बनाने के मकसद से पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान को गेंदबाजी का कोच बनाया गया है.

 किसी समय टीम इंडिया की ‘दीवार ‘ रहे द्रविड को बल्लेबाजी सलाहकार बनाया गया है, हालांकि वह कुछ खास विदेशी दौरों पर ही वह इस भूमिका का निर्वहन करेंगे. बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सी के खन्ना ने इन नई नियुक्तियों की पुष्टि करते हुए पीटीआई-भाषा से कहा, ‘ ‘क्रिकेट सलाहकार समिति की सिफारिश पर हमने रवि शास्त्री को मुख्य कोच नियुक्त करने का फैसला किया है जबकि जहीर खान गेंदबाजी के कोच होंगे. ‘ ‘

उन्होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों के दौरों के लिए द्रविड को बल्लेबाजी सलाहकार के रुप में टीम की मदद करेंगे. इससे पहले टीम के कोच की नियुक्ति को लेकर नाटकीय घटनाक्रम देखने को मिला जब बीसीसीआई ने रवि शास्त्री को भारतीय क्रिकेट टीम का कोच नियुक्त किये जाने की खबरों का खंडन कर दिया था.

भारतीय क्रिकेट टीम की कोच की दौड में वीरेंद्र सहवाग भी थे. पता चला है कि शास्त्री और सहवाग के बीच कड़ी टक्कर थी, लेकिन कोहली की सिफारिश ने शास्त्री का पलड़ा भारी कर दिया. उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि पूर्व कप्तान गांगुली को शास्त्री की नियुक्ति को लेकर आपत्तियां थीं, लेकिन सचिन तेंदुलकर के कहने पर वह मान गए. तेंदुलकर टीम की भावना का सम्मान चाह रहे थे.

TOPPOPULARRECENT