Monday , October 23 2017
Home / AP/Telangana / बोसीदा इमारतों के गिराने का फ़ैसला

बोसीदा इमारतों के गिराने का फ़ैसला

हैदराबाद 22म्जुलाई: दोनों शहरों में जारी हल्की-ओ-तेज़ बारिश से होने वाले नुक़्सानात को रोकने के लिए मजलिस बलदिया अज़ीम-तर हैदराबाद की तरफ से शहर में मौजूद बोसीदा इमारतों की फ़हरिस्त तैयार करते हुए उन्हें नोटिस जारी करने और गिराने के मुताल्लिक़ ग़ौर किया जा रहा है। मानसून की आमद और शहर में हल्की और तेज़ बारिश के सबब बोसीदा इमारतों को पैदा होने वाले ख़तरात और नुक़्सानात को रोकने के लिए ज़रूरी इक़दामात की हिदायात जारी करते हुए आला ओहदेदारों ने फ़ैसला किया है कि मौजूदा बोसीदा रिहायशी-ओ-तिजारती जायदादों का तख़लिया करवाते हुए उन्हें गिराने किया जाए।

ज़राए के मुताबिक दोनों शहरों हैदराबाद-ओ-सिकंदराबाद में 200 से ज़ाइद एसी इमारतों की निशानदेही की गई है जो इंतेहाई बोसीदा हालत में हैं लेकिन बलदी ओहदेदार इस बात का भी एतराफ़ कर रहे हैं कि उनमें बाज़ इमारतें खाली हैं जिन्हें बोसीदा किया जाना है। इसी तरह बाज़ इमारतों में रहने वाले इमारतों का फ़ौरी तख़लिया करने तैयार नहीं हैं जिसके सबब उन्हें दुशवारीयों का सामना करना पड़ रहा है।

माहिरीन के मुताबिक मुसलसल बूँदा-बाँदी और हल्की-ओ-तेज़ बारिश बोसीदा इमारतों के लिए ख़तरा होती है और अक्सर मानसून के दौरान इस तरह की बारिश से दीवार गिरने के वाक़ियात पेश आते हैं।

TOPPOPULARRECENT