Saturday , August 19 2017
Home / Khaas Khabar / ब्रिटिश मुसलमानों ने शांति का संदेश देने के लिए शुरू किया राष्ट्रव्यापी बस अभियान

ब्रिटिश मुसलमानों ने शांति का संदेश देने के लिए शुरू किया राष्ट्रव्यापी बस अभियान

लन्दन: सोमवार ५ दिसम्बर से ब्रिटेन के मुसलमान राष्ट्रव्यापी बस अभियान शुरू कर रहे हैं जिसमे बसों पर लिखा होगा “हेमानव, शांति फैलाओ और लोगो को खाना खिलाओ ” , यह सन्देश इस्लाम की केंद्रीय शिक्षाओ मे से एकहै। यह अभियान चार हफ्ते तक चलेगा ।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

Journalism.co.uk के अनुसार कुल १२८ बसों मे यह सन्देश लिखा जायेगा जो पुरे ब्रिटैन मे घूमेंगी । संयोजको का उद्देश्य है सन्देश पुरे समाज मे फैलाना है । यह अभियान वार्षिक वैश्विक अभियान जिससे “इंटरनेशनल मॉलिड इन दि सिटी” भी कहा जाता है उसका हिस्सा है। बस्सो के साथ –साथ इस अभियान मे दुनिया भर के मुसलमान अपने शहरो के केंद्रों मे और गलियो मे जाके लोगो को गुलाब के फूल देंगे और शांति का सन्देश फेलायेंगे ।

पिछले ५ वर्षो से चल रहा यह अभियान इस साल शनिवार १७ दिसम्बर से शुरू होगा। यह अभियान दुनिया भर मे आयोजित होता है और इस का मकसद हर उम्र के मुसलमानो को समाज मे और अपने स्थानीय समुदाय मे सकारात्मक योगदान देने के लिए प्रेरित करना है। दुनिया भर के प्रतिभागी जनता को गुलाब के फूल और मिठाई बाटेंगे और शांति, प्रेम और आशा का संदेश फेलायेंगे।

यह अभियान संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा, त्रिनिदाद, गुयाना, ऑस्ट्रेलिया और पश्चिमी यूरोप के भीतर कई स्थानों सहित ब्रिटेन भर में १२५ से अधिक स्थानों और दुनिया भर के कई शहरों में जगह –जगह निर्धारित किये गए हैं।एक मुस्लिम प्रतिनिधिमंडल मौजूदा प्रधानमंत्री थेरेसामई को गुलाब और शांति का संदेश देने के लिए लंदन की डाउनिंग स्ट्रीट मे जायेगा ।

अब्दुर रहमान टो बिन एक समन्वयक जो दोनों आयोजनों में शामिल हैं बताते हैं, ” दुर्भाग्यपूर्ण है की आज इस समाज मे इतना दर फ़ैल गया है , इस आयोजन मे हम लोगो मे शांति का सन्देश और गुलाब बाटेंगे जिससे लोगो को हमसे बात करने का मौका मिलेगा और अगर वे हमसे कुछ सवाल पूछना चाहते हैं तो हम इनका सही तरीके से जवाब दे पाएंगे । इस साल हम कोशिश कर पाएं हैं की हम १२८ बसों पर नबी का सन्देश लिख पाए और शांति का सन्देश फैला सकें, यह साल इंसानियत के लिए काफी दर्दनाक रहा है “।

TOPPOPULARRECENT