Wednesday , September 20 2017
Home / International / ब्रिटेन का यूरोपीय यूनीयन से निकलने का फ़ायदा रूस को होगा

ब्रिटेन का यूरोपीय यूनीयन से निकलने का फ़ायदा रूस को होगा

अगर बर्तानवी अवाम जून में होने वाले रैफ़रंडम में यूरोपीय यूनीयन से अलग होने के हक़ में वोट देते हैं तो रूसी जारहीयत के ख़िलाफ़ यूरोपीय बलॉक की कोशिशों को नुक़्सान पहुँचाएगी। ये बात बर्तानिया के यूरोपीय मिनिस्टर ने कही है।

स्लोवाकिया के दारुल हुकूमत में होने वाली ग्लोबल सेक सिक्यूरिटी कान्फ़्रैंस के दौरान यूरोपीय पार्लीमान के बर्तानवी वज़ीर डेविड लिडनगटन का कहना था कि नैटो इत्तिहाद यूरोपीय सलामती में अहम किरदार अदा कर रहा है ताहम यूरोपीय यूनीयन तवानाई, मालूमात के इस्तेमाल और साइबर सलाहीयतों के मैदान में रूसी चैलेंजेज़ का जवाब देने में ज़्यादा मज़बूत किरदार अदा कर सकती है।

बर्तानिया में 28 रुक्नी यूरोपीय यूनीयन बलॉक से अलाहिदगी के सवाल पर अवामी रैफ़रंडम रवां बरस 23 जून को मुनाक़िद होना है। YouGov की तरफ़ से ऑनलाइन कराए जाने वाले एक सर्वे को जुमा 15 अप्रैल को जारी किए गए नताइज के मुताबिक़ यूरोपीय यूनीयन में शामिल रहने के हक़ में चलाई जाने वाली मुहिम को एक प्वाईंट की बरतरी हासिल है।

TOPPOPULARRECENT