Saturday , October 21 2017
Home / Crime / भंवरी देवी अग़वा केस के मुल्ज़िमीन की तहवील में तौसीअ

भंवरी देवी अग़वा केस के मुल्ज़िमीन की तहवील में तौसीअ

जोधपुर, २५ दिसम्बर: (पी टी आई) सी बी आई की अदालत ने भंवरी देवी अग़वा केस में मुबय्यना तौर पर मुलव्वस होने पर गिरफ़्तार महीपाल मदेर्णा और परार श्रम की अदालती तहवील को 6 जनवरी तक तौसीअ दी है।

जोधपुर, २५ दिसम्बर: (पी टी आई) सी बी आई की अदालत ने भंवरी देवी अग़वा केस में मुबय्यना तौर पर मुलव्वस होने पर गिरफ़्तार महीपाल मदेर्णा और परार श्रम की अदालती तहवील को 6 जनवरी तक तौसीअ दी है।

इन दोनों को जगदीश जेनी की अदालत में पेश किया गया जहां जज ने उन की तहवील में तौसीअ की। राजस्थान के साबिक़ वज़ीर आबी वसाइल मदेरणा जो ओ सी एन असैंबली हलक़ा से नुमाइंदगी करते हैं को चीफ़ मिनिस्टर अशोक गेहलट ने 16 अक्टूबर को रियास्ती काबीना से बरतरफ़ किया था।

36 साला नर्स के लापता होने में उन के मुबय्यना तौर पर मुलव्वस होने की रिपोर्टस आने के बाद कार्रवाई की गई। परार श्रम कांग्रेस रुकन असैंबली मलखन सिंह के भाई हैं जिन्हें पूछगिछ के लिए इस केस में गिरफ़्तार किया गया है। वो उस वक़्त सी बी आई की तहवील में हैं।

मदेर्णा, परार श्रम और मलखन के इलाक़ा 3 मज़ीद मुल्ज़िमीन बलदेव, सोहन लाल और शहाब उद्दीन को भी इस केस में गिरफ़्तार किया गया है।

TOPPOPULARRECENT