Friday , August 18 2017
Home / Hyderabad News / भागवत से बराबरी करने पर भडक उठे ओवैसी

भागवत से बराबरी करने पर भडक उठे ओवैसी

नई दिल्ली: कांग्रेस लीडर दिग्विजय सिंह ने मजलिस इत्तेहादुल मुसलमीन (एमआईएम) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के चीफ मोहन भागवत की तस्वीर शेयर की है। इस तस्वीर पर अब बवाल खडा हो गया और दिग्गी मुखालिफीन के निशाने पर आ गये हैं।

दिग्विजय ने ट्वीट कर भागवत के साथ तस्वीर शेयर किए जाने को ओवैसी ने मुसलमानों की तौहीन बताया है। तस्वीर में आधा चेहरा असदुद्दीन ओवैसी और आधा मोहन भागवत का है। उस पर लिखा है दोहरा चरित्र….. शर्म करो।

असदुद्दीन ओवैसी इसे लेकर दिग्विजय पर भडक उठे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस लीडर ने आरएसएस के साथ एक मुस्लिम की तस्वीर दिखाकर इस मज़हब के सभी लोगों की तौहीन किया है। उन्होंने कहा, मेरी तस्वीर अहम नहीं है, लेकिन ऐसा करना सभी मुसलमानों की तौहीन है।

मुझे समझ में नहीं आ रहा है कि किस तरह मुसलमानों की तौहीन की जा रही है। मेरी आधी तस्वीर के साथ मोहन भागवत की आधी तस्वीर क्यों लगाई गई है, मेरी नहीं तो मुसलमानों की तो इज्जत ना उतारो। इस तरह की बेइज्जती से तो मैं कब्र में जाना पसंद करूंगा।

आप तो (दिगि्वजय) नरेंद्र मोदी को अपने बच्चो की शादी में बुलाते हैं, तस्वीर पोस्ट करते हैं। इसके साथ ही ओवैसी ने पूछा है कि, क्या कांग्रेस पार्टी इस बात का जवाब देगी कि उसके इक्तेदात में रहते हुए सामाजी ताना-बाना कितना मजबूत रहा।

बिहार के भागलपुर और असम में कत्ल-ए-आम हुए। बाबरी मस्जिद कांड हुआ। 1992 में दिसंबर और जनवरी के महीनों में जब मुंबई में दंगे हुए थे, तो उस वक्त कांग्रेस की ही हुकूमत थी। यह वही पार्टी है, जो श्रीकृष्णा कमेटी की रिपोर्ट को लागू करने में नाकाम रही।

ओवैसी ने कहा, जो तुम कहोगे उसका जवाब मिलेगा, जिस तरह चाहोगे उस तरह जवाब मिलेगा। वो वक्त जल्द आएगा जब तुम और गुमनामी में चले जाओगे।

तेलंगाना में अगर कोई भाजपा और आरएसएस के सामने खडा है तो बस वह मजलिस है। वहीं उत्तर प्रदेश के भाजपा सदर लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने कहा है कि दिग्विजय सिंह अपना वजूद बचाने के लिए ऐसी हरकतें कर रहे हैं। उन्होंने इसे सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल बताया। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह अपने वक़ार को बचाने के लिए ये कर रहें हैं। कहां लिखा है कि नज़रियाती तौर पर कोई बात नहीं कर सकते। सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल है, इसकी जांच हो।

फोटो शेयर करने के साथ ही कांग्रेस लीडर ने ट्वीट किया, ये दो चेहरे जो इस देश की सामाजी ताने-बाने को तबाह करने में लगे हुए हैं। कांग्रेस लीडर ने टि्वटर पर लिखा है कि उन्हें यह तस्वीर उनके एक दोस्त ने भेजी है, जिसे वह शेयर कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT