Thursday , June 29 2017
Home / Khaas Khabar / भाजपा सोशल मीडिया सेल ने मुख्यधारा के पत्रकारों की हिटलिस्ट बनाकर टारगेट करने को कहा था

भाजपा सोशल मीडिया सेल ने मुख्यधारा के पत्रकारों की हिटलिस्ट बनाकर टारगेट करने को कहा था

हाल ही में पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी की सुर्खियों में आई किताब ‘आई एम अ ट्रोल’ में एक बार फिर दावा किया गया है कि भारतीय जनता पार्टी ने विपक्षी राजनेताओं, गांधी परिवार, पत्रकार और फिल्मकारों को सोशल मीडिया पर ट्रोल कराने के लिए एक अलग से टीम बनाई हुई थी।

स्वाति चतुर्वेदी ने अपनी इस किताब में भाजपा के आईटी सेल की पूर्व वॉलंटियर साध्वी खोसला के हवाले से कहा है कि वॉलंटियर्स और कर्मचारियों को भाजपा की आईटी सेल ने मुख्यधारा के पत्रकारों की एक हिटलिस्ट दी थी जिसे सोशल मीडिया में टारगेट करने को कहा गया था। किताब में इसका मकसद गांधी परिवार का पर्दाफाश करना और उन्हें ट्रोल कराना बताया गया है। इसमें यह भी कहा गया है कि अगर सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में कोई अवांछित बात लिखता है तो डिजिटल ट्रैकिंग टूल्स की मदद से उसे सुधारा जाता है।

हालांकि भाजपा के राष्ट्रीय डिजिटल ऑपरेशंस सेंटर (एनडीओसी) के प्रमुख ने अरविंद गुप्ता स्वाति चतुर्वेदी के दावों को बकवास बताया है। उन्होंने कहा है कि स्वाति ने जिस खोसला के हवाले से ये बाते लिखी है उन्होंने कभी हमारे साथ काम नहीं किया। लेकिन अरविंद गुप्ता ने कहा है कि वह खोसला से एक शादी में मिले थे और जहां उन्होंने एक प्रोजेक्ट मांगा था जो उन्हें नहीं मिला। डेक्कन क्रॉनिकल में छपी एक खबर के मुताबिक, स्वाति की इस किताब में लोकसभा चुनावों के समय की खोसला की चंडीगढ़ से भाजपा की उम्मीदवार रहीं किरण खेर के साथ उनके घर पर चाय पीते हुए एक तस्वीर छापी गई है। वहीं अरविंद गुप्ता ने दावा किया है कि खोसला पंजाब में कांग्रेस के साथ काम करती हैं। गौरतलब है कि स्वाति चतुर्वेदी ने अपने इस किताब के हवाले से पिछले हफ्ते दावा किया था कि आमिर खान के असहिष्णुता बाद भाजपा आईटी सेल के प्रमुख ने उनको स्नैपडील के ब्रैंड एम्बैसडर से हटाने के लिए सोशल मीडिया पर मुहिम चलाने के लिए कहा था।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT