Wednesday , September 20 2017
Home / Delhi News / भारत- अमेरिका के संयुक्त बयान से तनाव में इजाफा होगा- पाकिस्तान

भारत- अमेरिका के संयुक्त बयान से तनाव में इजाफा होगा- पाकिस्तान

नई दिल्‍ली। मोदी ट्रंप मुलाकात को बेकार बताते हुए पाकिस्‍तान ने भारत अमेरिका संयुक्‍त बयान की निंदा की है। मंगलवार को जारी इस संयुक्‍त बयान में अमेरिका की ओर से कुछ कड़े शब्‍दों का उपयोग किया गया जो पाकिस्‍तान से आने वाले आतंकवाद पर था। इस्‍लामाबाद इससे नाराज है क्‍योंकि उसका मानना है कि भारत अमेरिका के इस बयान से तनाव और बढ़ने वाला है।

डॉन के अनुसार, पाकिस्तान ने सीमापार आतंकवाद को लेकर भारत-अमेरिका के संयुक्त बयान की आलोचना करते हुए कहा कि इसमें तनाव के मुख्य स्रोतों पर ध्यान नहीं दिया गया। बयान में पाकिस्तान से सीमा पार आतंकवाद पर रोक लगाने को कहा गया है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा कि वाशिंगटन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक में भारत को क्षेत्र में शांति के प्रतिकूल उसकी नीतियों को बदलने की दिशा में प्रेरित करने का मौका गंवा दिया गया।

इसमें कहा गया कि संयुक्त बयान से दक्षिण एशिया क्षेत्र में रणनीतिक स्थिरता एवं स्थायी शांति के उद्देश्य को हासिल करने में बिल्कुल मदद नहीं मिलेगी।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया, ‘क्षेत्र में तनाव एवं अस्थिरता के प्रमुख स्रोतों पर ध्यान न देकर बयान से पहले से ही तनावपूर्ण स्थिति को बढ़ावा मिला।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी यात्रा के दौरान दोनों देशों ने जैश ए मोहम्मद, लश्कर ए तैयबा और डी-कंपनी जैसे आतंकी संगठनों के खिलाफ सहयोग मजबूत करने का प्रण लिया था और पाकिस्तान से यह सुनिश्चित करने को कहा था कि वह अपनी जमीन का इस्तेमाल दूसरे देशों के खिलाफ आतंकी हमलों के लिए न होने दे।

TOPPOPULARRECENT