Wednesday , June 28 2017
Home / India / भारत और रूस ने सैन्य अभ्यासों को उन्नत किया

भारत और रूस ने सैन्य अभ्यासों को उन्नत किया

भारत और रूस अपने वार्षिक ‘इंद्रा द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास’ को बहुपक्षीय स्तर पर उन्नत करने के लिए सहमत हो गए हैं। अब इसमें तीनो सेवाएं शामिल होंगी। यह भारत के लिए किसी भी अन्य देश के साथ किये गए द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास में सबसे पहले होगा।

“किसी भी सेवा – सेना, नौसेना और वायुसेना का अलग से रूस के साथ अभ्यास नहीं होगा । यह सहमति बनी है की तीनो सेनाओ का अभ्यास त्रिकोणीय सेवा प्रारूप में किया जायेगा, “एक वरिष्ठ रक्षा मंत्रालय के सूत्र ने बताया।

तीन सेवाओं के बीच एकीकरण को बढ़ावा देने के भारत के प्रयासों की ओर इशारा करते हुए स्रोत ने कहा, “यह भारत के लिए अपनी सेवाओं के बीच समन्वय लाने का एक अच्छा मौका है और इससे यह भी पता चलेगा की अन्य देश कैसे संयुक्त रूप से कार्य करते हैं।”

इंद्रा अभ्यास इस साल अक्टूबर या नवंबर के आसपास रूस मे आयोजित किया जायेगा। विवरण को अंतिम रूप देने के लिए प्रारंभिक योजना सम्मेलन पहले ही हो चुका है। सभी विवरणों को अंतिम रूप देने के लिए दो और बैठकें आयोजित की जाएंगी, स्रोत ने कहा।

रक्षा मंत्रालय के एकीकृत रक्षा कर्मचारी इस साल रूस में आयोजित होने वाले अभ्यासों का नेतृत्व करेंगे। अधिकारियों ने भारतीय और रूसी सशस्त्र बलों के बीच समानताएं भी बताई और बताया की ज्यादातर भारतीय शस्त्रागार मास्को से आयात किए जा रहे हैं।

“उदाहरण के लिए रूस के साथ विमान साझा किया जा सकता है। उन्हें यहां से लेकर नहीं जाना पड़ेगा,” स्रोत ने बताया।

रक्षा मंत्री ‘अरुण जेटली’ 25 अप्रैल को द्विपक्षीय यात्रा के लिए रूस जाएंगे जहां वे 26 अप्रैल को अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा पर मास्को सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT