Monday , July 24 2017
Home / Business / भारत के बैंकिंग इतिहास में एक बड़ा कदम, भारतीय स्टेट बैंक का पांच सहयोगी बैंको के साथ विलय हुआ

भारत के बैंकिंग इतिहास में एक बड़ा कदम, भारतीय स्टेट बैंक का पांच सहयोगी बैंको के साथ विलय हुआ

1 अप्रैल से सभी पांच सहयोगी बैंको का भारतीय स्टेट बैंक के साथ विलय हो जायेगा। यह भारत के बेकिंग इतिहास में सबसे बड़ा एकत्रीकरण अभ्यास है ।

भारतीय स्टेट बैंक की एक नियामक फाइलिंग के अनुसार, बीकानेर और जयपुर स्टेट बैंक (एसबीबीजे) , मैसूर स्टेट बैंक (एसबीएम), स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर (एसबीटी), स्टेट बैंक ऑफ़ पटियाला (एसबीपी) और स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबाद (एसबीएच) की सम्पतियो को 1 अप्रैल 2017 से भारतीय स्टेट बैंक में स्थानांतरित कर दिया जाएगा।

इस विलय के बाद भारतीय स्टेट बैंक अपने 37 लाख करोड़ रुपये ( $ 555 से कहीं अधिक) की सम्पति, 22500 ब्रांचो और 58000 एटीएम के साथ वैश्विक ऋणदाता बन जायेगा ।

विलय के बाद, निदेशक बोर्ड और सहयोगी बैंकों के कार्यकारी न्यासियों के अलावा सभी पांच बैंको के अधिकारी व कर्मचारी भारतीय स्टेट बैंक के कर्मचारी बन जायेंगे ।

TOPPOPULARRECENT