Sunday , August 20 2017
Home / India / भारत-पाक सरहद पर लगाए गए ‘लेजर दीवार’, नामुमकिन हुआ घुसपैठ

भारत-पाक सरहद पर लगाए गए ‘लेजर दीवार’, नामुमकिन हुआ घुसपैठ

पंजाब से सटे भारत-पाक बोर्डर की सेक्युर्टी अब लेजर दीवार के जरिए की जाएगी। इस दीवार को अब एक्टिवेट कर दिया गया है जिसकी वजह से इस रास्ते से दहशतगर्द घुसपैठ नामुमकिन हो गया है। इन दीवारों को नदियों, जंगलों और दुर्गम मुकाम पर लगाया गया है जहां सेक्युर्टी जवानों की नजर से बचकर घुसपैठिए आसानी से भारत में घूस आते थे।

बीएसएफ के अफसरों ने बताया कि दो साल पहले ही खराब मुकाम पर लेजर वॉल बनाने की जरूरत बताई गई थी जिसके बाद सरकार ने इसे कायम करने की मंजूरी दे दी थी। यह वॉल लेजर लाइटों के अलावा इंफ्रारेड सिस्टम से भी लैस है जो घुसपैठ का पता लगाने में सक्षम है। इसकी सबसे खास बात यह है कि इसका पता दहशतगर्द घुसपैठियों को भी नहीं चल पाएगा कि इस सिस्टम की इस्तेमाल कहां किया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा चार दीगर जगहों पर इस सिस्टम को स्थापिक किया जाएगा जिसके जल्द ही शुरू होने की उम्मीद है।

इस नए सिस्टम की निगरानी भी कि जिम्मेदारी भी बीएसएफ के जिम्मे ही होगी। ये जवान जम्मू कश्मीर, पंजाब, गुजरात और राजस्थान सरहद की निगरानी करते हैं। अफसरों के मुताबिक पहले इस सिस्टम को कुछ ही इलाकों में कायम किया जाना था लेकिन जनवरी महीने हुए पठानकोट हमले के बाद इसका और ज्यादा विस्तार किया जा रहा है। जांच एजेंसियों के मुताबिक पठानकोट हमले के दहशतगर्द भारत-पाक सरहद पर वाके बामियाल इलाके से मुल्क में घुसे थे। इसके मद्देनजर केंद्र सरकार और बीएसएफ ने इसका दायरा बढ़ाने ने पर अपनी मंजूरी जताई थी।

TOPPOPULARRECENT