Sunday , August 20 2017
Home / Kashmir / भारत-पाक हिंसा का खामियाजा कश्मीरियों को भुगतना पड़ता है- महबूबा मुफ्ती

भारत-पाक हिंसा का खामियाजा कश्मीरियों को भुगतना पड़ता है- महबूबा मुफ्ती

श्रीनगर। एलओसी पार कर भारतीय सेना की सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर की मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने चिंता जाहिर की है। मुफ्ती ने सीमा पर बढ़ते तनाव के मद्देनजर धमकी दी है क‍ि भारत-पाकिस्‍तान के आमने-सामने आने से राज्‍य को ‘भारी मात्रा में नुकसान’ हो सकता है। मुफ्ती ने संयम बरतने और ‘युद्ध जैसी स्थिति’ को कम करने को कहा है।

उन्‍होंने कहा कि भारत और पाकिस्‍तान को सीमा पर बढ़ते तनाव से होने वाले खतरनाक परिणामों का एहसास करते हुए बातचीत के रास्‍ते खोजने चाहिए। उन्‍होंने सर्जिकल स्‍ट्राइक पर टिप्‍पणी करते हुए कहा, ”जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों का शांति में सबसे बड़ा हिस्‍सा है क्‍योंकि राज्‍य में खूनी हिंसा के चलते उन्‍होंने भारी नुकसान सहा है। हम हिंसा की वजह से बहुत भुगते हैं और अच्‍छी तरह जानते हैं कि इसके खतरे और परिणाम क्‍या हो सकते हैं।”

मुफ्ती ने अपील करते हुए कहा, ”जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों के लिए सीमा और राज्‍य में शांति भारी महत्‍वपूर्ण है और मुझे उम्‍मीद है कि दोनों देशों का राजनैतिक नेतृत्‍व इसी भावना के साथ आगे बढ़ेगा”।

TOPPOPULARRECENT