Friday , September 22 2017
Home / Khaas Khabar / मंदिर में दाख़िले पर इमतिना के ख़िलाफ़ एहतेजाज पुलिस

मंदिर में दाख़िले पर इमतिना के ख़िलाफ़ एहतेजाज पुलिस

अहमदनगर: ज़िला अहमद नगर के शनी शिंगणापुर मंदिर में ज़बरदस्ती दाख़िल होने का 350 ख़ातून कारकुनों का मन्सूबा नाकाम बना दिया गया। 400 साला क़दीम मंदिर में ख़वातीन को मुक़द्दस गर्भ ग्रुप में दाख़िले की इजाज़त नहीं है। ख़वातीन कारकुनों को मंदिर से 70 किलोमीटर के फ़ासिले पर एक गांव में रोक दिया गया।

भूमाता ब्रिगेड के पर्चम तले ख़वातीन जब सौपा दिहात पहुंचीं जिनकी क़ियादत तंज़ीम की सदर तृप्ति देसाई कर रही थीं उन्हें आगे बढ़ने से पुलिस ने रोक दिया जिसने पूरे जुलूसियों को घेरे में ले लिया था ताकि मंदिर में उनका दाख़िला नाकाम बनाया जाये। देसाई ने दावा किया था कि तंज़ीम के कारकुन हेलिकाप्टर के ज़रिये सीढ़ीयों से शानी मंदिर के प्लेटफार्म पर उतरेंगे ताकि पूजा कर सकें।

अगर उन्हें पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो ये इक़दाम किया जाएगा। जुलूसियों को70किलोमीटर दूर ही रोक दिया गया और सौपा पुलिस स्टेशन मुंतक़िल किया गया। कशीदगी दूर होने पर कारकुनों ने पुलिस कार्रवाई के ख़िलाफ़ शिद्दत से एहतेजाज किया नारेबाज़ी की और सड़कों पर लेट गईं।

वो नारे लगा रही थीं ‘ यौमे जम्हुरिया के दिन ख़वातीन के लिए योम-ए-स्याह 350 ख़वातीन को रोक दिया गया और उनके ख़िलाफ़ कार्य‌वाई करने का ऐलान किया गया। तृप्ति देसाई ने एक प्रेस कान्फ़्रेंस से ख़िताब करते हुए ख़वातीन के ख़िलाफ़ पुलिस कार्य‌वाई को का बिल मुज़म्मत और हिन्दुस्तानी जम्हुरियत-ओ-ख़वातीन के लिए योम-ए-स्याह क़रार देते हुए अपने मन्सूबे पर अमलावरी जारी रखने का ऐलान किया और कहा कि सत्यग्रह की जाएगी और इस वक़्त तक पानी भी नहीं पिया जाएगा जब तक कि जुलूस को आगे बढ़ने की इजाज़त नहीं दी जाती।

ये ख़वातीन के दस्तूरी हुक़ूक़ की खुल्लम खुल्ला ख़िलाफ़वरज़ी है। चीफ़ मिनिस्टर को हमें रोकने की वजह बताना होगा। क़ौमी शाहराह पर दीगर एहतेजाजियों के साथ धरना देने वाली तृप्ति देसाई ने इल्ज़ाम आइद किया कि पुलिस ने ख़वातीन कारकुनों के साथ बदसुलूकी की है।

उन्होंने कहा कि उनके बाज़ हामी पहले ही मंदिर पहुंच चुकी हैं। उन्होंने नौजवान चीफ़ मिनिस्टर से मुस्तफ़ी होने का मुतालिबा किया और कहा कि ख़वातीन की आवाज़ दबाने और उनकी बाइख़तियारिया के नाकाम दावे करने पर चीफ़ मिनिस्टर को मुस्तफ़ी होजाना चाहिए|

TOPPOPULARRECENT