Monday , October 23 2017
Home / India / मछेरों की कैद-ओ-बंद की सऊबतों से अपोज़िशन को कोई सरोकार नहीं

मछेरों की कैद-ओ-बंद की सऊबतों से अपोज़िशन को कोई सरोकार नहीं

पाकिस्तान में कैद हिन्दुस्तानी मछेरों के बारे में नवाज़ शरीफ़ से में ने बात की है: मोदी

पाकिस्तान में कैद हिन्दुस्तानी मछेरों के बारे में नवाज़ शरीफ़ से में ने बात की है: मोदी

वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी ने आज यहां एक इंतेख़ाबी रैली से ख़िताब करते हुए कहा कि 15 अक्तूबर को मुनाक़िद शुदणी इंतेख़ाबात में कांग्रेस-एन सी पी का सफ़ाया करते हुए अवाम ख़ानदानी हुकूमत से नजात हासिल करें। कोकण के कनिका वली में इंतेख़ाबी मुहिम के इख़तेतामी मरहले में एक अज़ीम उल-शान रैली से ख़िताब करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस-एन सी पी ने रियासत में ख़ानदानी हुकूमत का निज़ाम क़ायम करदिया था।

बाप बरसर-ए-इक्तदार आने के बाद बच्चों से कहता है कि वो भी कुछ अज़ला की देख भाल करें। लिहाज़ा अवाम अगर सिंधू राग और कोकण की तक़दीर बदलना चाहते हैं तो वो बी जे पी को वोट दें, याद रहे कि कनिका वली को कांग्रेस लीडर और महाराष्ट्र के साबिक़ वज़ीरे आला नारायण राय का मज़बूत गढ़ समझा जाता है।

महाराष्ट्र के पाल घर में एक रैली से ख़िताब करते हुए नरेंद्र मोदी ने मछेरों की भी ताईद हासिल करने एक इसी बात कही जो यक़ीनन बरवक़्त कही जा सकती है। उन्होंने कहा कि उनसे अपोज़िशन वाले उनकी हुकूमत के 100 दिन मुकम्मल होने पर उनकी ( मोदी) कारकर्दगियों के बारे में पूछते हैं लेकिन कोई भी जेल में सऊबतें झेलने वाले मछेरों के लिए परेशान नहीं है और ये उनकी ही हुकूमत है जिन्होंने इस मसले को पाकिस्तान से रुजू किया है।

महाराष्ट्र के नौ तशकील शूदा ज़िला पाल घर में मोदी की तक़रीर सुनने अवाम का जम ग़फ़ीर मौजूद था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में हिन्दुस्तानी मछेरे कैद-ओ-बंद की सऊबतें झील रहे हैं। उन्होंने कहा कि वज़ीर-ए-आज़म का ओहदा सँभालते ही उन्होंने वज़ीर-ए-आज़म पाकिस्तान नवाज़ शरीफ़ से भी इस सिलसिले में संजीदगी से बात की थी और कहा था कि पाकिस्तान ने ना सिर्फ़ हिन्दुस्तानी मछेरों को कैद किया है बल्कि उनकी कश्तियां भी सबुत की हैं जबकि एक कश्ती की कीमत 5 ता 10 लाख रुपये होती है।

TOPPOPULARRECENT