Saturday , March 25 2017
Home / Delhi / Mumbai / मजदूर संगठनों ने फ़ैक्ट्री ऐक्ट में संशोधन का विरोध किया

मजदूर संगठनों ने फ़ैक्ट्री ऐक्ट में संशोधन का विरोध किया

नई दिल्ली: बारह मजदूर संगठनों ने आज केंद्रीय मंत्री बंडारो दत्तात्रेय से मुलाकात कर कारखाना अधिनियम में प्रस्तावित संशोधन का विरोध करते हुए आरोप लगाया कि सरकार मजदूरों के हितों की अनदेखी कर रही है और मजदूर संगठनों से उचित रूप से सलाह भी नहीं कर रही है| भारतया जनता पार्टी (बीजेपी) से जुड़े भारतीय मजदूर संघ और कांग्रेस से जुड़े हुए नटक और वाम दलों से जुड़े सीटू, अटक और मजदूर संगठनों के नेताओं ने दत्तात्रेय से उनके कार्यालय में बैठक में भाग लेकर अपना विरोध दर्ज कराया।

बैठक में भारतीय एमएस के पवन कुमार, भारतीय मजदूर संघ के हरभजन सिंह, सीटू की मीनाक्षी सुंदरम और अनटक सचिव डी एल सचदीवा, विद्या सागर गिरी, अटक के राजीव डमरी आदि शामिल बारह मजदूर संगठनों से दत्तात्रेय को दिए ज्ञापन रंडम में कहा गया है कि कारखाना अधिनियम में मजदूरों की सीमा संख्या 20 से बढ़ाकर 40 किए जाने का प्रस्ताव किया गया है जो उचित नहीं। इस सीमा को हटाया जाना चाहिए।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT