Sunday , August 20 2017
Home / India / मध्यप्रदेश किसान आन्दोलन: हटाए गए डीएम- एसपी, राज्य के अन्य हिस्सों में भी हिंसा फैली

मध्यप्रदेश किसान आन्दोलन: हटाए गए डीएम- एसपी, राज्य के अन्य हिस्सों में भी हिंसा फैली

मंदसौर। आंदोलनकारी किसानों पर मंदसौर में पुलिस गोलीबारी के बाद किसान आंदोलन और उग्र हो गया है। किसानों ने मंदसौर में दर्जनों वाहनों के साथ ही एक कारखाने को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान पुलिस के साथ किसानों की झड़प भी हुई। नीमच, देवास, खरगोन, उज्जैन में भी हिंसक घटनाएं हुईं। मंदसौर में रेल यातायात रोक दिया गया है।

किसान आंदोलनकारियों ने पिपलिया मंडी क्षेत्र स्थित एक फैक्टरी में आग दी और बही चौपाटी इलाके में तीन बड़े वाहनों को आग के हवाले कर दिया। इसके अलावा भी कई ट्रकों, वाहनों आदि में तोड़फोड़ कर आग लगाई गई।

इस बीच, मध्य प्रदेश सरकार ने मंदसौर के कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह का तबादला कर दिया है। उनका स्थान ओपी श्रीवास्तव ने लिया है। मंदसौर के पुलिस अधीक्षक ओपी त्रिपाठी का भी तबादला कर दिया गया है। वहीं किसानों से मिलने के कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी दिल्ली से निकल चुके हैं।

राहुल गांधी मंदसौर जाकर पुलिस गोलीबारी में मारे गये किसानों के परिवारों से मिलेंगे। राहुल ने मंदसौर जाने की बात एक ट्वीट के जरिए कही। वहीं नीमच के पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह का कहना है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को हिंसा प्रभावित मंदसौर के दौरे की इजाजत नहीं दी जाएगी।

मंदसौर में चल रहे आंदोलन के चलते पश्चिम रेल्वे के रतलाम मंडल से पिपलिया-मल्हारगढ़ पर आवागमन बंद कर दिया गया है। इसके कारण 11 गाड़ियों के आवागमन पर असर पड़ा है। वहीं मंदसौर की आग देवास तक पहुंच गई।

किसानों ने हाट पिपलिया थाने पर धावा बोल दिया और वहां खड़े जब्ती के वाहनों को आग लगा दी। किसानों ने भोपाल-इंदौर के बीच चलने वाली दो चार्टर बसों सहित 10 से अधिक वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया। सीहोर में भी बस जला दी गई। नीमच में एक पुलिस चौकी को आग लगा दिया गया।

TOPPOPULARRECENT