Saturday , October 21 2017
Home / India / मर्कज़ी वुज़रा में से 77 फ़ीसद करोड़पती

मर्कज़ी वुज़रा में से 77 फ़ीसद करोड़पती

नई दिल्ली । /17 सितंबर (एजैंसीज़) इफ़रात-ए-ज़र और खाने पीने की अशीया में रोज़ अफ़्ज़ूँ बढ़ोतरी का उन मैंबरान पार्लीमान ख़ुसूसन मर्कज़ी वुज़रा पर कोई असर नहीं होने वाला है । इस की वजह ये है कि ये लोग इतने दौलतमंद हैं कि महंगाई अगर चार गुना भी बढ़ जाय तो उन की सेहत पर कोई असर पड़ने वाला नहीं है क्योंकि मर्कज़ी वुज़रा में से 77 फ़ीसद ऐसे हैं जो करोड़पती हैं जिन की औसत दौलत 10.3 करोड़ रुपय है जबकि उन्हों ने अपनी दौलत की दो साल क़बल तफ़सील जो पेश की है इस से 3 करोड़ ज़्यादा है । भारी इंडस्ट्री मिनिस्टर प्रफुल्ल पटेल का नाम अमीर वुज़रा की फ़हरिस्त में सब से ऊपर है । प्रफुल्ल पटेल की दौलत का अंदाज़ा 122 करोड़ लगाया गया है । बादअज़ां वज़ीर-ए-इत्तलात-ओ-नशरियात ऐस जगतरक्षकन की दौलत 70 करोड़ है । शहरी तरक़्क़ीयाती वज़ीर कमल नाथ के पास 41 करोड़ रुपय का सरमाया है । एशीयन डैमोक्रेटिक रीफार्मस (ए डी आर) के ज़रीये जो आदाद-ओ-शुमार पेश किए गए इस के मुताबिक़ सब से ज़्यादा जिस वज़ीर की दौलत में इज़ाफ़ा हुआ है वो डी ऐम के के जगतरक्षकन हैं जिन की दौलत सिर्फ दो सालों के अंदर 64.5 करोड़ होगई । साल 2009 -ए-में उन के पास 5.9 करोड़ की दौलत थी जबकि 2001 -में इन का देसी सरमाया 70 करोड़ होगया । पटेल इस फ़हरिस्त में दूसरे नंबर पर हैं जिन की दौलत 2009 -ए-में 79.8 करोड़ थी जबकि 2001 में 122 करोड़ होगई यानी इस दौरान उन के सरमाए में 42 करोड़ रुपय का इज़ाफ़ा हुआ । पटेल के बाद कमल नाथ का नंबर आता है जिन की दौलत में 26 करोड़ रुपय का इज़ाफ़ा हुआ है । कमल नाथ की दौलत 2009 -में सिर्फ 14 करोड़ थी लेकिन 2011 -तक उन की दौलत 41 करोड़ होगई । दौलत के बढ़ने के तनासुब के एतबार से भी जगतरक्षकन सब से आगे हैं । उन की दौलत में बहुत तेज़ी से इज़ाफ़ा होते हुए 1,092 फ़ीसद की बढ़ोतरी हुई है । कांग्रेस पार्टी की वज़ीर टेक्सटाइल पनाबका लक्ष्मी इस फ़हरिस्त में जिन की दौलत में तेज़ी से इज़ाफ़ा हुआ है , दूसरे नंबर पर हैं । उन की दौलत में 828 फ़ीसद इज़ाफ़ा हुआ है जबकि रोड और ट्रांसपोर्ट और हाई वे के वज़ीर तुषार भाई चौधरी की दौलत में निहायत तेज़ी से 705 फ़ीसद की बढ़ोतरी हुई है । साल 2009-के मुक़ाबिल जिन 15 वुज़रा ने अपनी दौलत कम करके बताई है इन में अलगा था संगमा , प्रतीक पी पाटल , वीरभद्र सिंह , आर पी एन सिंह , डी नपोलीन , वनसनट पाला , जतिन प्रसाद , ऐम वीरप्पा मोईली , पी चिदम़्बरम , ऐस जुए पाल रेड्डी , फ़ारूक़ अबदुल्लाह , परनीत कौर , जय राम रमेश , ऐस ऐम कृष्णा और जी के विसिना रे शामिल हैं

TOPPOPULARRECENT